ताज़ा खबर
 

West Bengal: मंदिर के बाहर बैठकर सैकड़ों लोगों ने किया ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ, राजनीति तेज

लोगों का कहना था कि हम किसी भी धर्म को टारगेट नहीं कर रहे हैं, हिंदू समुदाय ने अपने इतिहास में कभी किसी धर्म का विरोध नहीं किया है।

Author हावड़ा | July 10, 2019 9:35 AM
रोड पर पढ़ते हुनमान चालीसा लोग (फोटो सोर्स: ANI)

पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान से जारी ‘जय श्रीराम’ के नारे पर राजनीति अब और जोर पकड़ती दिख रही है। इस दौरान हावड़ा के डोबसन रोड में लोगों ने मंदिर के बाहर सड़क पर बैठकर ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ किया। इसके साथ लोगों ने राम मंदिर निर्माण के लिए प्रार्थना की। इसकी वजह से सड़क पर लंबा जाम लग गया। लोगों का कहना था कि हम किसी भी धर्म को टारगेट नहीं कर रहे हैं, हिंदू समुदाय ने अपने इतिहास में कभी किसी धर्म का विरोध नहीं किया है। गौरतलब है कि ‘जय श्री राम’ के नारे को लेकर पश्चिम बंगाल में घमासान जारी है।

दरअसल, पश्चिम बंगाल में जय श्रीराम के नारे को लेकर बीजेपी और टीएसमी के बीच सियासी बवाल जारी है। बीजेपी जहां सीएम ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी पर तुष्टीकरण का आरोप लगा रही है तो वहीं ममता श्रीराम के नाम पर राजनीति करने का आरोप बीजेपी पर लगा रही हैं। लेकिन इन सबके बीच बंगाल से लेकर यूपी तक सियासत गरम है। इस बीच अब बंगाल में जय हनुमान के नाम पर भी सियासत तेज होती नजर आ रही है। हावड़ा में डोबसन रोड पर भगवान हनुमान के मंदिर के बाहर सड़क पर सैकड़ों लोगों ने ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ किया। इसके साथ ही यूपी के अलीगढ़ स्थित सासनी गेट चौराहे पर काली मंदिर पर मंगलवार को बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ा और आरती की। बताया जा रहा है कि आरती के दौरान रोड पर जाम लग गया और सड़क पर बसों की कतारें लग गईं।

National Hindi News, 10 July 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

Bihar News Today 10 July 2019: बिहार की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

गौरतलब है कि इससे पहले 26 जून को भी हावड़ा के बाली खाल में बीजेपी युवा मोर्चा के नेतृत्व में सड़क पर सैकड़ों लोगों ने हनुमान चालीसा का पाठ किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उस समय बीजेपी के इस हनुमान चालीसा पाठ के कारण कई घंटों तक रास्ता बंद रहा था। मामले पर बोलते हुए बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष ओमप्रकाश ने कहा था कि जब एक धर्म के लोग शुक्रवार के दिन रास्ते पर बैठ कर नमाज पढ़ सकते हैं, तो हम हनुमान चालीसा क्यों नहीं? इसके बाद उन्होंने ऐलान किया था कि अब हावड़ा में हर मंगलवार को हनुमान चालीसा पढ़ा जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App