ताज़ा खबर
 

ममता बोलीं- यह मोदी सरकार के खिलाफ सत्याग्रह, धरनास्थल पर ही करेंगी कैबिनेट बैठक

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मोदी सरकार के खिलाफ धरने पर बैठी हुई हैं। उन्होंने कहा है कि वे धरनास्थल पर ही कैबिनेट की बैठक करेंगी और वहीं से विधानसभा को संबोधित करेंगी।

Author February 4, 2019 9:12 AM
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Source: PTI)

कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर तक सीबीआई अफसरों के पहुंचने के बाद पश्चिम बंगाल में हाई वोल्टेज ड्रामा चल रहा है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मोदी सरकार के खिलाफ धरने पर बैठी हुई हैं। उन्होंने इस धरने को मोदी सरकार के खिलाफ सत्याग्रह का नाम दिया है। साथ ही, उन्होंने कहा है कि वे धरनास्थल पर ही कैबिनेट की बैठक करेंगी और वहीं से विधानसभा को संबोधित करेंगी।

आज पेश होना है बजट : जानकारी के मुताबिक, पश्चिम बंगाल विधानसभा में सोमवार को सरकार का बजट पेश होना है। इसके बावजूद ममता बनर्जी धरनास्थल से नहीं हटेंगी। उन्होंने ऐलान किया है, ‘‘जब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नहीं हटा दूंगी, चुप नहीं बैठूंगी। धरनास्थल पर ही कैबिनेट की बैठक करूंगी और वहीं से विधानसभा को संबोधित करूंगी।’’ बताया जा रहा है कि अब वित्तमंत्री अमित मित्रा विधानसभा में बजट पेश करेंगे।

ममता को विपक्षी दलों का मिल रहा समर्थन : पीएम मोदी के खिलाफ धरने पर बैठीं ममता बनर्जी को कांग्रेस, सपा, आरजेडी, आप, बीएसपी, झारखंड मुक्ति मोर्चा, जेडीएस, डीएमके और नेशनल कॉन्फ्रेंस का समर्थन मिल चुका है। इनके अलावा हार्दिक पटेल, दलित नेता जिग्नेश मेवाणी, पीडीपी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती, पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव समेत पूरे विपक्ष ने ममता बनर्जी के समर्थन में ट्वीट भी किए हैं।

प्रदर्शन कर रहे टीएमसी कार्यकर्ता : तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ता रविवार रात सड़कों पर उतर आए। उन्होंने जगह-जगह विरोध प्रदर्शन किया और पुतले भी फूंके। बता दें कि रविवार शाम शारदा और रोज वैली घोटाला मामले में पूछताछ के लिए सीबीआई की टीम कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंची थी। इस दौरान सीबीआई के अफसरों को कोलकाता पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि कुछ देर बार उन्हें छोड़ दिया गया। वहीं, बीजेपी ने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए धरना दे रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App