ताज़ा खबर
 

West Bengal: गुप्त बैठक में TMC नेताओं को ममता का आदेश- BJP से रिश्ते रखने वालों की पहचान कर पार्टी से निकालें

ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के नेताओं को किसी भी पार्टी के समर्थकों के साथ हिंसक झड़प में शामिल नहीं होने की चेतावनी भी दी है। रिपोर्ट के मुताबिक मुख्यमंत्री ने प्रशासन पर निर्भरता कम कर पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए भी कहा।

Author कोलकाता | July 6, 2019 11:29 AM
ममता बनर्जी (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी के बढ़ते दबदबे के मद्देनजर टीएमसी सुप्रीमो और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पार्टी नेताओं को एक अहम आदेश दिया है। इसके तहत बीजेपी से संबंध रखने वाले टीएमसी नेताओं और कार्यकर्ताओं की पहचान कर उन्हें पार्टी से निकालने के लिए कहा है। शुक्रवार (5 जुलाई) को दिए अपने आदेश के साथ ही ममता ने पार्टी को विधानसभा चुनाव 2021 में जीतने का भी भरोसा दिया।

ममता ने कोलकाता में बंद कमरे में हुई एक सभा में बांकुरा और झारग्राम जिलों के टीएमसी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने एक बार फिर आम आदमी से संबंध स्थापित करने की नसीहत दी। एचटी की रिपोर्ट के मुताबिक सभा में शरीक होकर आए एक पार्टी कार्यकर्ता ने कहा, ‘मुख्यमंत्री ने हमें कहा कि हम 2021 का चुनाव जीतेंगे। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि पार्टी में बीजेपी से संबंध रखने वालों पर जोर दिया जाए।’

National Hindi News, 06 July 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

साथ ही ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के नेताओं को किसी भी पार्टी के समर्थकों के साथ हिंसक झड़प में शामिल नहीं होने की चेतावनी भी दी है। रिपोर्ट के मुताबिक मुख्यमंत्री ने प्रशासन पर निर्भरता कम कर पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए भी कहा।

Bihar News Today, 06 July 2019: बिहार से जुड़ी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

बता दें कि बीजेपी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में 2014 के मुकाबले सीटों में 900 फीसदी का इजाफा किया है। हाल ही में टीएमसी के सात विधायकों और करीब 60 पार्षदों ने बीजेपी का दामन थाम लिया है। चुनाव के दौरान कई सांसदों ने भी पलटी मारी थी। हाल ही में ममता बनर्जी ने सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों से अवैध वसूली करने वालों को भी पैसे वापस करने के लिए कहा है। उनके बयान के बाद से राज्य में हलचल मची हुई है। इसके बाद से ही राज्य के गांवों में दर्जनों पार्टी नेताओं से पैसे वापस लेने के लिए लोगों ने जमकर हंगामा कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App