ताज़ा खबर
 

बंगाल में ‘जय श्री राम’ बोलने वालों से मुकाबला करेगी ममता बनर्जी की ‘जय हिंद वाहिनी’, बना विधानसभा चुनाव का एक्शन प्लान

पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोकसभा चुनाव की करारी हार के बाद कालीघाट स्थित अपने घर पर बैठक की। पार्टी ने 'जय श्री राम' बोलने वाले लोगों की तर्ज पर 'जय हिंद बहिनी' संगठन बनाने का फैसला किया है।

mamata banerjeeपश्चिम बंगाल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी फोटो सोर्स- जनसत्ता

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद कमर कस ली है। उन्होंने ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने वाले लोगों के मुकाबले के लिए ‘जय हिंद वाहिनी’ संगठन बनाने का फैसला किया है। इसी संबंध में तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कालीघाट स्थित अपने घर पर कोर कमेटी की बैठक भी बुलाई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मीटिंग में साल 2021 के विधानसभा चुनावों को लेकर भी चर्चा और लोकसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन की भी समीक्षा की गई। मीटिंग में फैसला किया गया कि सीएम खुद शुक्रवार (7 जून) से उन सभी क्षेत्र के नेताओं से मुलाकात करेंगी जहां पर उनकी पार्टी को शिकस्त मिली है। बैठक में तृणमूल कांग्रेस की खोई हुई जमीन को वापस पाने के लिए एक्शन प्लान भी बनाया है। पार्टी अपने इस संगठन का बूथ लेवल तक विस्तार करेगी।

लोगों से बातचीत करने को कहाः बनर्जी ने टीएमसी नेताओं को नियमित रूप से पार्टी कार्यालयों का दौरा करने और लोगों के साथ बातचीत करने के लिए कहा है। उन्होंने एक साप्ताहिक रोस्टर तैयार किया है जिसमें कैबिनेट मंत्री सहित वरिष्ठ नेता, तृणमूल भवन मुख्यालय में मौजूद लोगों और पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगे। इसी कड़ी में सीएम ने कहा कि वह उन जिलों के नेताओं से बातचीत करेंगे जहां टीएमसी को उलटफेर का सामना करना पड़ा है।

National Hindi News, 1 june 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें जानने के लिए यहां क्लिक करें

ये मंत्री संभालेंगे कार्यभारः बंगाल के वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री राजीव बनर्जी टीएमसी के नादिया पर्यवेक्षक के रूप में पार्थ चटर्जी की जगह काम करेंगे। वहीं सुवेन्दु अधिकारी की जिम्मेदारी भी कम की गई है। मालदा जिले के कार्यभार को साधन पांडे और गोलम रब्बानी संभालेंगे। राज्य के वन मंत्री ब्रत्य बसु ‘जय हिंद वाहिनी’ संगठन का नेतृत्व करेंगे। जिससे तृणमूल कांग्रेस की महिला वोटरों के बीच पकड़ बनाई जा सके।

2021 के चुनावों पर ध्यान देने की अपील कीः बनर्जी ने अपने सांसदों से चुनाव सुधार और ईवीएम की खराबी पर ध्यान देने का भी आग्रह किया। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि उन्हें कुछ गलत कामों पर संदेह है और उन्होंने कार्यकर्ताओं से इन मुद्दों पर बोलने की भी अपील की। बनर्जी ने अपनी पार्टी के सदस्यों से साल 2021 के चुनावों पर फोकस करने के लिए कहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 PM मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘विश्वनाथ कॉरिडोर’ में निकले मंदिर पर चोरों का अटैक, मच गया हड़कंप
2 Haryana: चुनाव में मजिस्ट्रेट की जगह महीनेभर ड्यूटी करता रहा माली, जमकर किया ऐश, यूं खुली पोल
3 Chhattisgarh: सो रहे परिवार पर आधी रात को हाथी ने कर दिया हमला, तबाह हो गया पूरा घर, एक की मौत
ये पढ़ा क्या?
X