पश्चिम बंगाल की खाली पड़ी सीटों पर उपचुनाव की तारीखों का ऐलान, ममता बनर्जी के CM बने रहने का ‘रास्ता साफ’

चुनाव आयोग ने 30 सितंबर को पश्चिम बंगाल के भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव कराने का फैसला किया है। इसी तारीख को पश्चिम बंगाल के समसेरगंज, जंगीपुर और पिपली (ओडिशा) में भी उपचुनाव होंगे। 3 अक्टूबर को मतगणना होगी।

Mamata Banerjee West Bengal By Election new
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

भारतीय निर्वाचन आयोग ने पश्चिम बंगाल की खाली पड़ी विधानसभा सीटों में से तीन और ओडिशा की एक सीट पर उपचुनाव कराने का कार्यक्रम शनिवार को घोषित कर दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार पश्चिम बंगाल की भबानीपुर, समसेरगंज और जंगीपुर सीटों के लिए उपचुनाव होंगे। पश्चिम बंगाल में उपचुनाव की खबर टीएमसी के लिए राहत भरी मानी जा रही है, क्योंकि इसी के साथ ममता बनर्जी के मुख्यमंत्री के पद पर बने रहने का रास्ता साफ हो गया है। TMC पिछले कुछ दिनों से उपचुनावों की मांग कर रही थी। दरअसल जल्द चुनाव नहीं होने की स्थिति में ममता बनर्जी को मुख्यमंत्री का पद त्यागना पड़ सकता था। टीएमसी ने चुनाव आयोग के पास 15 जुलाई को उपचुनाव की मांग के साथ अर्जी लगाई थी।

3 अक्टूबर को होगी मतगणना: चुनाव आयोग ने 30 सितंबर को पश्चिम बंगाल के भबानीपुर विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव कराने का फैसला किया है। इसी सीट से ममता बनर्जी ने चुनाव लड़ने का ऐलान किया था लेकिन कोविड संकट के चलते इसकी तारीख आगे बढ़ गई थी। ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनावों में नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ा था। उन्हें बीजेपी के सुवेंदु अधिकारी ने कांटे के मुकाबले में हरा दिया था। 30 सितंबर को पश्चिम बंगाल के समसेरगंज, जंगीपुर और पिपली (ओडिशा) में भी उपचुनाव होंगे। 3 अक्टूबर को मतगणना होगी।

TMC क्यों कर रही थी उपचुनाव जल्दी कराने की अपील?: पश्चिम बंगाल में हाल ही में विधानसभा चुनावों में टीएमसी ने बहुमत तो हासिल किया था लेकिन ममता बनर्जी चुनाव हार गई थीं। टीएमसी प्रमुख ने 4 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। ऐसे में उन्हें शपथ लेने की तारीख से 6 महीने के भीतर विधानसभा का सदस्य बनना जरूरी था। इस संवैधानिक बाध्यता को पूरा करने के लिए भबानीपुर सीट को खाली भी किया गया था लेकिन तभी कोविड संकट गहराने लगा, जिसको देखते आयोग ने चुनाव की तारीखों को आगे बढ़ा दिया था। लिहाजा टीएमसी चुनाव जल्द कराने की अपील कर रही थी।

TMC विधायक ने दिया था इस्तीफा: भबानीपुर सीट से TMC विधायक शोभनदेब चट्टोपाध्याय ने पिछले दिनों इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफा पेश करने के साथ उन्होंने कहा था कि मुख्‍यमंत्री को छह महीने के भीतर किसी भी विधानसभा सीट पर जीतना है। मैं उनकी सीट से खड़ा हुआ और जीत गया। मैं विधायक पद इसलिए छोड़ रहा हूं कि वह निष्‍पक्ष तरीके से चुनाव जीतकर मुख्‍यमंत्री बनी रहें।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।