ताज़ा खबर
 

अनिल देशमुख केस में केंद्र दखल देगा? सवाल पर बोले अमित शाह- चुनाव प्रचार में हूं अभी, आराम से देखेंगे इसे

अमित शाह ने कहा कि बंगाल में हमारा 200 का आंकड़ा है, वह जरूर पूरा होगा। बंगाल की जनता जिस तरह रैलियों में उमड़ रही है वह साफ है कि जनता मन बना चुकी है। ममता जी को हटाएगी।

West bengal election 2021केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा नेता अमित शाह मंगलवार को पश्चिम मेदिनीपुर जिले के मिदनापुर में एक रोड शो में भाग लेते हुए। (फोटो-पीटीआई)

गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को कहा कि महाराष्ट्र में जो कुछ चल रहा है, वह नैतिकता का सवाल है। सिर्फ मुंबई पुलिस कमिश्नर ही नहीं, कई अन्य अफसरों ने चिट्ठी लिखी है। महाराष्ट्र सरकार को कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी मैं बंगाल में चुनाव प्रचार में हूं, आराम से देखेंगे इस मामले को। वह मिदनापुर में एक रैली कर रहे थे। इस दौरान आजतक की संवाददाता अंजना ओमकश्यप ने उनसे पूछा कि क्या केंद्र महाराष्ट्र के मामले में दखल देगा तो उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार के बाद इस मामले को देखूंगा। उन्होंने कहा कि देवेंद्र जी जो देंगे, उसे आराम से देखूंगा। कहा कि मैं सीएम और शरद पवार को कोई सलाह नहीं देना चाहता हूं।

अमित शाह ने कहा कि बंगाल में हमारा 200 का आंकड़ा है, वह जरूर पूरा होगा। बंगाल की जनता जिस तरह रैलियों में उमड़ रही है वह साफ है कि जनता मन बना चुकी है। ममता जी को हटाएगी। उन्होंने कहा कि सीएम ममता बनर्जी की चोट वोट में नहीं बदलेगी। उन्हें अपनी मेडिकल रिपोर्ट सार्वजनिक करनी चाहिए। कहा कि भाजपा राष्ट्रीय दल है और वह हर राज्य में चुनाव लड़ती है। अगर ममता जी समझती हैं कि हम टूरिस्ट हैं तो उन्हें हम कहेंगे कि वह भ्रम की दुनिया में पड़ी रहें।

कहा कि भाजपा का घोषणापत्र और संकल्प पत्र को देश की जनता गंभीरता से लेती है। हमने घुसपैठ से मुक्त बंगाल का वादा किया है, भ्रष्टाचार से मुक्त बंगाल का वादा किया है और महिला सुरक्षा से युक्त बंगाल का वादा किया है। इसे पूरा करेंगे। उन्होने कहा कि “बंगाल का धरतीपुत्र ही बंगाल का मुख्यमंत्री बनेगा।” कहा कि लोग तृणमूल कांग्रेस के “कुशासन” के कारण बदलाव चाहते हैं और वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राज्य के विकास के विजन को गले लगाएंगे।

उन्होंने कहा, “बंगाल में हम 200 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज करेंगे और असम में हमारी सीटों की संख्या बढ़ेगी।” पश्चिम बंगाल चुनावों में भाजपा की बड़ी जीत के विश्वास का आधार पूछने पर शाह ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनावों के बाद पार्टी ने अपनी स्थिति लगातार मजबूत की है जबकि तृणमूल कांग्रेस का जनाधार खिसका है और बड़ी संख्या में उसके नेता संगठन से अलग हुए हैं। उनमें से अधिकतर भाजपा में आ गए हैं।

उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हमने स्पष्ट रूप से कहा है कि देश के करोड़ों शरणार्थियों को भाजपा नागरिकता देगी। कहा कि यह हमारा “अटल नारा” है। हम इस मुद्दे पर साफ रूप से बता चुके हैं। भाजपा पर धार्मिक ध्रुवीकरण के बनर्जी के आरोपों के बारे में पूछे जाने पर शाह ने कहा कि अगर लोगों के मुद्दे उठाना धार्मिक ध्रुवीकरण है तो उन्होंने यह “नयी परिभाषा” सुनी है।

उन्होंने कहा, “2019 में हमने 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत दर्ज की और तीन सीट पर काफी कम अंतर से हारे। वह भी तब जब लोगों को हमारी जीत के बारे में संदेह था। अब उन्हें विश्वास है कि हम जीत सकते हैं। लोग बदलाव चाहते हैं और हम उनके साथ हैं।” उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी भले ही मोदी को नहीं देखना चाहती हों और यह उनकी पसंद है लेकिन पश्चिम बंगाल के लोगों ने उनके प्रति अपना प्यार दिखाया है और काफी संख्या में उनकी रैलियों में शामिल हुए है

Next Stories
1 छत्तीसगढ़: नक्सली धमाके में 5 जवान शहीद, 13 घायल; सेना की बस को बनाया था निशाना
2 बिहार में RJD का प्रदर्शनः विधानसभा घेराव के बीच RJD कार्यकर्ताओं-पुलिस में झड़प, बोले तेज प्रताप- 1 “साउंडर्स” फिर आया, काले क़ानून की फाइल में अंग्रेज़ी हुकूमत लाया
ये पढ़ा क्या?
X