पश्चिम बंगालः पांचवें चरण के मतदान में 78.36 प्रतिशत वोटिंग, कोरोना के बढ़े मामले

जहां एक तरफ बंगाल में आज पांचवे चरण का मतदान जारी रहा, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पार्टी के लिए प्रचार में भी ऐक्टिव रहे।

electionनदिया के शांतिपुर में मतदान के लिए पहुंचीं महिलाएं। फोटो- पीटीआई

 छिटपुट हिंसा की खबरों के बीच पश्चिम बंगाल में पांचवें चरण का मतदान संपन्न हो गया है। इस चरण में शाम 6 बजे तक 78.36 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने अधिकार का प्रयोग किया। वहीं सिलिगुड़ी, बिधान नगर और शांति नगर से हिंसा की भी खबरें आईं।

कोरोना के कहर के बीच जारी चुनावी रैलियां विपक्षी नेताओं के निशाने पर हैं। पी चिदंबरम ने भी पीएम मोदी पर वार करते हुए कहा कि इस परिस्थिति में दिल्ली में रहने के बजाय पीएम रैलियों में व्यस्त हैं। बता दें कि पश्चिम बंगाल में आज सबसे ज्यादा 7713 ने कोरोना केस पाए गए हैं और 34 मरीजों की मौत हो गई।

बता दें कि पांचवे फेज में 45 विधानसभा सीटें दांव पर हैं और कुल 342 उम्मीदवार मैदान में हैं। ये सीटें पूर्व बर्धमान, जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग, उत्तर 24 परगना और कलिम्पोंग जैसे जिलों की हैं।

कहां-कितनी सीटों पर वोटिंग?: पांचवें चरण में सबसे ज्यादा उत्तर 24 परगना की 16 सीटों पर वोटिंग हो रही है। इसके अलावा नादिया और बर्धमान की 8-8, जलपाईगुड़ी की 7 और दर्जिलिंग की पांच सीटों पर मतदान हो रहा है। एक सीट कलिम्पोंग जिले में भी है। इन जिलों में मतदान के लिए कुल 15 हजार 789 मतदान केंद्र बनाए गए है।

चुनाव आयोग ने स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय बलों की 1071 कंपनियों को तैनात करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा 15 हजार 790 राज्य पुलिस के अधिकारी भी ड्यूटी में तैनात रहेंगे। हिंसा के मद्देनजर और कोविड को देखते हुए चुनाव आयोग ने प्रचार की अवधि को कम कर दिया है।

Next Stories
1 फर्जी Remdesivir बनाने वाला धराया तो बोले कवि कुमार विश्वास- इन्हें देख लुप्त हुई गिद्ध की प्रजाति
2 Delhi Weekend Curfew: डॉक्टर को दिखानी पड़ेगी ID, पर सब्जी वाले को नहीं; जानें- किसके लिए E-Pass रहेगा जरूरी?
3 कोरोना की दोहरी मारः मजदूरों पर फिर संकट के बादल; हाथ जोड़े डॉक्टरों की अपील- लोगों को मरते देख दिल टूटता है, इसलिए…
ये पढ़ा क्या?
X