ताज़ा खबर
 

चक्रवाती तूफान ने ली 72 की जान, ममता बनर्जी ने केंद्र से मांगी मदद, पश्चिम बंगाल और ओडिशा के हवाई दौरे पर आज पीएम मोदी

West Bengal Amphan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ से प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। बहरहाल, यह पूछे जाने पर कि क्या प्रधानमंत्री चक्रवात प्रभावित पश्चिम बंगाल और ओडिशा दोनों प्रदेशों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे, सूत्रों ने केवल इतना कहा कि वह चक्रवात प्रभावित क्षेत्रों का सर्वेक्षण करेंगे।

Author नई दिल्ली | Updated: May 22, 2020 8:57 AM
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी।

West Bengal Amphan: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार (21 मई, 2020) को कहा कि चक्रवात अम्फान के कारण राज्य में कम से कम 72 लोगों की मौत हो गई है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रभावित जिलों का दौरा करने और तबाह हो गए इलाकों के पुर्निनर्माण के लिए सहायता देने का आग्रह किया। ममता ने प्रत्येक मृतक के परिवार के सदस्यों के लिए दो लाख रुपए के मुआवजे की भी घोषणा की। उन्होंने कहा, ‘अब तक हमें मिली रिपोर्ट के अनुसार राज्य में चक्रवात अम्फान के कारण 72 लोगों की मौत हो गई है। दो जिले- उत्तरी और दक्षिणी 24 परगना पूरी तरह से तबाह हो गए हैं। हमें उन जिलों का फिर से पुर्निनमाण करना होगा। मैं केंद्र सरकार से राज्य को हरसंभव मदद देने का आग्रह करूंगी।’

उन्होंने प्रभावित क्षेत्रों में प्रारंभिक निर्माण कार्यों के लिए 1,000 करोड़ रुपए के एक विशेष कोष की भी घोषणा की। ममता ने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद कहा, ‘मैं बहुत जल्द प्रभावित इलाकों का दौरा करूंगी। स्थिति बहाल करने के लिए काम जल्द ही शुरू होंगे। उत्तरी और दक्षिणी 24 परगना और कोलकाता का एक बड़ा हिस्सा कल शाम से ही बड़े स्तर पर बिजली कटौती का सामना कर रहा है। यहां तक कि टेलीफोन और मोबाइल संपर्क भी प्रभावित हैं।’ उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने जीवन में कभी इतना भयंकर चक्रवात और विनाश नहीं देखा है। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध करूंगी कि वह आएं और चक्रवात अम्फान से प्रभावित इलाकों का दौरा करें।’

UP Coronavirus LIVE Updates

ममता ने कहा कि चक्रवात से ऐसी तबाही हुई है जो हमारी कल्पना से भी परे है। उन्होंने कहा कि संकट के इस समय में बंगाल एकजुट है। हम सब मिलकर इसका मुकाबला करेंगे क्योंकि कोई भी चीज बंगाल के लोगों की भावना और ताकत को कम नहीं कर सकती है। उन्होंने विपक्षी दलों से राज्य के पुर्निनर्माण में हाथ मिलाने का आग्रह किया। इस बीच अधिकारियों ने कहा कि मृतकों में कोलकाता के 15, उत्तरी 24 परगना के 17, दक्षिणी 24 परगना-सुंदरबन क्षेत्र के चार और बशीरहाट के 10 लोग शामिल हैं। उन्होंने कहा कि राज्य की राजधानी के साथ ही पूर्वी मिदनापुर, हावड़ा और उत्तरी तथा दक्षिणी 24 परगना जिले सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।

क्‍लिक करें Corona Virus, COVID-19 और Lockdown से जुड़ी खबरों के लिए और जानें लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइंस।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दक्षिणी 24 परगना जिले का 99 फीसदी खत्म हो गया है और कई नवनिर्मित इमारतें भी क्षतिग्रस्त हो गई हैं। ममता ने अधिकारियों से जल्द से जल्द पुननिर्माण काम शुरू करने की अपील की। उन्होंने कहा कि पुननिर्माण पर होने वाले खर्च का भुगतान “समझदारी से और सावधानीपूर्वक” किया जाना चाहिए। ममता ने कहा कि हम पहले ही कोरोना वायरस से लड़ने पर काफी पैसा खर्च कर चुके हैं। पिछले दो महीनों से राज्य की आय शून्य है लेकिन बहुत खर्च हुआ है। अब चक्रवात से राज्य की वित्तीय स्थिति और खराब होगी।

इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ से प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। बहरहाल, यह पूछे जाने पर कि क्या प्रधानमंत्री चक्रवात प्रभावित पश्चिम बंगाल और ओडिशा दोनों प्रदेशों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे, सूत्रों ने केवल इतना कहा कि वह चक्रवात प्रभावित क्षेत्रों का सर्वेक्षण करेंगे। इससे पहले प्रधानमंत्री ने गुरुवार को कहा कि चक्रवात से प्रभावित लोगों की मदद के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी।

मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, ‘मैंने चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ के कारण पश्चिम बंगाल में नुकसान के दृश्य को देखा है। यह चुनौतीपूर्ण समय है, पूरा देश पश्चिम बंगाल के साथ एकजुट होकर खड़ा है। राज्य के लोगों के कल्याण के लिए प्रार्थना कर रहा हूं। स्थिति सामान्य करने के लिए प्रयास जारी हैं।’ उन्होंने कहा, ‘शीर्ष अधिकारी स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए हैं और पश्चिम बंगाल सरकार के साथ करीबी समन्वय में काम भी कर रहे हैं। प्रभावित लोगों की मदद करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी।’ मोदी ने कहा, ‘राज्य के लोगों की कुशलक्षेम के लिए प्रार्थना कर रहा हूं। स्थिति सामान्य करने के लिए प्रयास जारी हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 कोरोना कालः दिल्ली में संपत्तियों की खरीद-बिक्री में जबरदस्त गिरावट