scorecardresearch

हमने डेढ़ महीने पहले बहुत ऊंची दही हांडी तोड़ी थी- उद्धव सरकार पर सीएम एकनाथ शिंदे ने कसा तंज

Maharashtra Govt: दही-हांडी समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे सीएम एकनाथ शिंदे ने कहा कि हमारी दही-हांडी बहुत ऊंची और मजबूत थी।

हमने डेढ़ महीने पहले बहुत ऊंची दही हांडी तोड़ी थी- उद्धव सरकार पर सीएम एकनाथ शिंदे ने कसा तंज
एकनाथ शिंदे, मुख्यमंत्री महाराष्ट्रः Photo Credit- File

Maharashtra Govt: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) कृष्ण जन्माष्टमी के त्योहार पर शुक्रवार (19 अगस्त) को ठाणे के तेम्बी नाका में दही हांडी कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने उद्धव ठाकरे पर तंज कसते हुए कहा कि हमने तो जून में ही एक बेहद मजबूत दही हांडी को तोड़ दिया था।

कार्यक्रम में एकनाथ शिंदे ने कहा, “आप अब दही हांडी तोड़ रहे हैं। हमने डेढ़ महीने पहले एक बहुत मजबूत दही हांडी को तोड़ा था। ये बहुत कठिन, ऊंची थी और इसे तोड़ने के लिए हमें 50 मजबूत परतें लगानी पड़ीं, लेकिन हम सफल रहे।”

उद्धव सरकार को गिरा कर बने थे सीएम: उनका इशारा अपनी उस बगावत की तरफ था, जिसके बाद महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी गठबंधन की सरकार गिर गई थी और उद्धव ठाकरे को सीएम कुर्सी से हाथ धोना पड़ा था। शिंदे करीब 50 विधायकों के साथ सरकार से अलग हो गए थे। इसके बाद भाजपा ने न सिर्फ शिंदे गुट को समर्थन देकर नई सरकार बनाई थी, बल्कि एकनाथ को मुख्यमंत्री पद भी दिया था।

सीएम शिंदे ने कहा कि जहां एक ओर शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे चाहते थे कि पार्टी का एक कार्यकर्ता महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बने, वहीं दिवंगत आनंद दीघे चाहते थे कि ठाणे के किसी शिवसेना कार्यकर्ता को यह शीर्ष पद मिले।

फडणवीस ने तोड़ी भ्रष्टाचार की दही हांडी: वहीं, दूसरी ओर उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भाजपा के शीर्ष नेताओं के साथ वर्ली के जंबोरी मैदान का दौरा किया और भ्रष्टाचार की दही हांडी तोड़ी। गौरतलब है कि वर्ली आदित्य ठाकरे का निर्वाचन क्षेत्र है और परंपरागत रूप से यहां उत्सव का आयोजन एनसीपी नेता से शिव सैनिक बने सचिन अहीर द्वारा किया जाता था। हालांकि, इस बार मुंबई भाजपा अध्यक्ष आशीष शेलार ने कार्यक्रम स्थल को पहले से बुक कर लिया था।

गौरतलब है कि एकनाथ शिंदे ने जून में शिवसेना के कई विधायकों के साथ पार्टी से बगावत कर दी थी। जिसके बाद उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली एमवीए सरकार गिर गई थी। एकनाथ शिंदे ने इसके बाद बीजेपी के साथ मिलकर नई सरकार का गठन किया था और 30 जून 2022 को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट