ताज़ा खबर
 

हेलिकॉप्टर सौदे में कमलनाथ के भांजे से ईडी की पूछताछ

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआइपी हेलिकॉप्टर धनशोधन मामले में जांच कर रही प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों की टीम ने गुरुवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी से पूछताछ की।

Author Updated: April 4, 2019 11:59 PM
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी से पूछताछ की।

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआइपी हेलिकॉप्टर धनशोधन मामले में जांच कर रही प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों की टीम ने गुरुवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी से पूछताछ की। ईडी के अधिकारियों के मुताबिक, रतुल पुरी सुबह 11 बजे इस मामले में जांच कर रही टीम के समक्ष पेश हुए। पुरी का बयान धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत दर्ज किया गया। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को दिल्ली की एक अदालत को जानकारी दी थी कि उसने अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआइपी हेलिकॉप्टर धनशोधन मामले में पुरी को पूछताछ के लिए बुलाया है। वे हिंदुस्तान पॉवर प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष हैं। पुरी की मां नीता कमलनाथ की बहन हैं।

ईडी के अधिकारियों के मुताबिक पुरी को इस मामले के कथित बिचौलिए सुशेन मोहन गुप्ता का सामना कराने के लिए तलब किया गया था। अदालत ने गुप्ता की हिरासत में पूछताछ की अवधि बुधवार को तीन दिन बढ़ा दी थी। गुप्ता की हिरासत अवधि बढ़ाने की मांग करते हुए ईडी ने अदालत से कहा था कि उसका इस मामले में पुरी सहित विभिन्न लोगों से आमना-सामना कराया जाना है।

यह मामला अब रद्द हो चुके 3,600 करोड़ रुपए के हेलिकॉप्टर सौदे से जुड़ा है। पुरी का नाम सरकारी गवाह बन चुके राजीव सक्सेना ने ईडी अधिकारियों के सामने लिया था। सक्सेना को दुबई से भारत प्रत्यर्पित किए जाने के बाद ईडी ने गिरफ्तार किया था। दूसरी ओर, पुरी ने इस मामले में किसी तरह की संलिप्तता से इनकार किया है। उनकी कंपनी ने अपने बयान में कहा कि वे ईडी के साथ जांच में पूरी तरह से सहयोग करेंगे और जरूरत पड़ने पर कोई भी स्पष्टीकरण या जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि उनका अगस्ता या किसी भी रक्षा सौदे से कोई लेना देना नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Pune: खेत में सांप होने का शक था, आग लगाई तो जल गए 5 तेंदुए