योगी का गुस्सा नीतीश पर निकालने वाले मुकेश सहनी को उनके ही विधायक ने घेरा, कहा- प्राइवेट कंपनी की तरह होते हैं फैसले

वीआईपी पार्टी के चीफ और बिहार में मंत्री मुकेश सहनी ने नीतीश की बैठक बीच में ही छोड़ दी। अब उनके ही विधायक ने उनपर सवाल खड़े कर दिए हैं।

Mukesh sahani
वीआईपी पार्टी के चीफ मुकेश सहनी। फोटो- एक्सप्रेस @विशाल श्रीवास्तव

उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है, एनडीए के भी सहयोगी असंतुष्ट दिखाई देने लगे हैं। बिहार सरकार में एनडीए के सहयोगी वीआईपी पार्टी के नेता मुकेश सहनी ने यूपी में योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। दरअसल उन्हें बनारस में घुसने से रोक दिया गया था। इसके बाद वह नाराज हो गए और अपना गुस्सा नीतीश कुमार की मीटिंग में निकाल दिया। वह बीच में ही बैठक छोड़कर निकल गए। अब उनकी ही पार्टी के नेता ने मुकेश सहनी के इस रवैये पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

विधायक राजू सिंह ने कहा, सहनी को बैठक छोड़कर नहीं जाना चाहिए था। इससे वे अपनी बात वहां नहीं रख पाए। राजू सिंह ने यह भी माना की पार्टी के अंदर कोऑर्डिनेशन की कमी है। एनडीए में न सुनी जाने के सवाल पर विधायक राजू सिंह ने कहा कि, राष्ट्रीय अध्यक्ष ऐसा बोल रहे हैं तो हो सकता है लेकिन हमारे साथ ऐसा नहीं हो रहा है। हमारी बात सुनी जाती है।

राजू सिंह ने सवाल खड़े करते हुए यहां तक कह दिया कि पार्टी के अंदर जिस तरह से निर्णय लिए जाते हैं, वे सही नहीं हैं। यह कोई प्राइवेट कंपनी नहीं है बल्कि पार्टी है और पार्टी में सभी की राय ली जाती है। उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी में कोऑर्डिनेशन की कमी की वजह से ही नाराजगी है और उसको जल्द बैठकर हल किया जाएगा।

बता दें कि मुकेश सहनी ने एनडीए के घटक दलों की बैठक का बहिष्कार करने के बाद कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी सबका साथ, सबका विकास की बात करते हैं लेकिन उत्तर प्रदेश में इसका पालन नहीं होता है। उन्होंने कहा था कि हम सरकार के साथ हैं इसलिए बात सुनी जानी चाहिए।

मुकेश सहनी ने उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में 165 उम्मीदवार उतारने का भी फैसला कर लिया। उन्होंने एक बार फिर से फूलनदेवी का नाम राजनीति में ला दिया। सहनी ने कहा कि, आने वाले सरकार में हम अपनी सरकार बनाएंगे और फूलन देवी की प्रतिमा लगाएंगे।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट