scorecardresearch

Row over Savarkar poster: कर्नाटक के शिमोगा में 4 गिरफ्तार, BJP नेता ने की SDPI और PFI पर बैन की मांग

Karnataka Violence: एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘पूरे शहर में पुलिस तैनात करने के बाद स्थिति नियंत्रण में है। इसके बाद विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल सहित दक्षिणपंथी समूहों ने शहर में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया।’

Row over Savarkar poster: कर्नाटक के शिमोगा में 4 गिरफ्तार, BJP नेता ने की SDPI और PFI पर बैन की मांग
Shivamogga Violence: सांप्रदायिक हिंसा के बाद धारा-144 लागू (Photo- Twitter/ @HimanshuDixitt)

Karnataka Violence: सोमवार (15 अगस्त) को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के विचारक वी डी सावरकर (VD Savarkar) और 18वीं शताब्दी के शासक टीपू सुल्तान (Tipu Sultan) के बैनरों को लेकर दो समूहों के बीच झड़प हो गई। इस झड़प के बाद शिमोगा जिले में आपराधिक प्रक्रिया संहिता CRPC की धारा 144 के तहत प्रतिबंध लगा दिया। मामले की जानकारी रखने वाले एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस समारोह के हिस्से के रूप में शिमोगा के अमीर अहमद सर्कल में सावरकर की तस्वीर वाला एक बैनर लगाए जाने के बाद तनाव पैदा हो गया।

मंगलवार को स्वतंत्रता दिवस के दिन कर्नाटक के शिमोगा जिले में हुई चाकूबाजी के मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने अब तक गिरफ्तार किए गए चार लोगों में से तीन की पहचान नदीम (25), अब्दुल रहमान (25) और जबीउल्लाह के रूप में की है। पुलिस से बचने के प्रयास में जबीउल्लाह के पैर में गोली लग गई। वहीं इस मामले में बीजेपी के विधायक के एस ईश्वरप्पा ने एसडीपीआई और पीएफआई संगठनों पर बैन की मांग की है।

2016 की झड़प में भी शामिल था नदीम

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आलोक कुमार ने बताया, “नदीम 2016 में शिमोगा में गणेश जुलूस के दौरान हुई सांप्रदायिक झड़पों में भी शामिल था।” उन्होंने आगे बताया, “वह वही था जिसने चप्पल फेंकी थी।” उन्होंने कहा कि पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों का किसी संगठन से संबंध तो नहीं है। उन्होंने ये भी बताया कि ऐसा लग रहा था कि ये घटनाक्रम पहले सुनियोजित किया गया था।

गिरफ्तार चारों आरोपियों पर 307 का मामला दर्ज

स्वतंत्रता दिवस पर अमीर अहमद सर्कल में विनायक दामोदर सावरकर के पोस्टर लगाने को लेकर विवाद के कुछ घंटे बाद शिमोगा के गांधी बाजार इलाके में प्रेम सिंह नाम के एक व्यक्ति को चाकू मार दिया गया था। गिरफ्तार चार लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 307 (हत्या का प्रयास) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

शिवमोगा में Section 144 लागू की गई

शिमोगा के पुलिस अधीक्षक लक्ष्मी प्रसाद ने बताया, “मौजूदा स्थिति को देखते हुए, हमने शिमोगा शहर और भद्रावती (तालुका) में धारा 144 लागू कर दी है। स्थिति अब पुलिस के नियंत्रण में है और हम मामले की विस्तार से जांच करेंगे।” लक्ष्मी प्रसाद ने आगे बताया, “शहर में शनिवार को भी इसी तरह की घटना हुई थी जब सावरकर की तस्वीर को लेकर एक मॉल में बहस छिड़ गई थी।

चाकू मारने की घटनाओं पर जांच कर रही है Police

एसपी प्रसाद ने बताया, “सोमवार को शहर में चाकू घोंपने की दो घटनाएं हुईं हालांकि अभी हम इस बात की जांच कर रहे हैं कि क्या ये हत्याएं इसी झड़प से जुड़ीं हैं या कोई और मामला है। उन्होंने बताया कि हमारे पास चाकू घोंपने की जानकारी है। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हम जांच करेंगे कि क्या छुरा घोंपने से संबंधित है।”

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.