ताज़ा खबर
 

अखिलेश यादव यूपी में नहीं, अचानक सपा मुख्‍यालय पहुंच गए मुलायम

मुलायम इससे पहले 22 नवंबर 2017 को सपा मुख्यालय आए थे, तब उनका जन्मदिन यहां हर्षोल्लास से मनाया गया था।

सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव। (एक्सप्रेस फोटोः विशाल श्रीवास्तव)

समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव गुरुवार (30 अगस्त) को अचानक राजधानी लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय पहुंच गए। सपा में हाशिए पर ढकेले गए छोटे भाई शिवपाल यादव के पार्टी बनाने के सवाल पर उन्होंने कुछ भी कहने से इन्कार कर दिया। बोले, “अभी नहीं। अगर कोई बात करनी होगी भी तो हो कल कहूंगा।” वह यहां तकरीबन 10 महीनों बाद आए थे। सूत्रों के अनुसार, लंबे समय के बाद मुख्यालय में उन्हें देख पार्टी कार्यकर्ता भी हैरान थे। किसी ने फौरन उनके पैर छुए, तो कोई उनके आगे नतमस्तक था।

सबसे खास बात है कि मुलायम के यहां पहुंचने के दौरान उनके बेटे और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश में नहीं थे। खुद मुलायम ने इसकी जानकारी कार्यकर्ताओं को दीं। उन्होंने मंच से कहा, “अखिलेश उत्तराखंड के दौरे पर गए हुए हैं।” मुलायम इससे पहले 22 नवंबर 2017 को सपा मुख्यालय आए थे, तब उनका जन्मदिन यहां हर्षोल्लास से मनाया गया था।

मुलायम यहां किसलिए आए थे? दरअसल, सपा के पूर्व राज्यसभा सांसद दर्शन सिंह यादव का गुरुवार को निधन हो गया। सुबह करीब चार बजे उन्हें हर्ट अटैक पड़ा था। उसी को लेकर सपा मुख्यालय में शोक सभा आयोजित हुई। ऐसे में सपा संरक्षक ने उस दौरान दर्शन सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। बताया, “दर्शन मेरे बहुत अच्छे दोस्त थे। मेरे कुछ मुद्दों पर उनसे मतभेद रहते थे। लेकिन वह हमारी दोस्ती और घनिष्ठता में अंतर नहीं आने देते थे।”

उधर, दर्शन सिंह की अंत्येष्टि दोपहर में उनके पैतृक गांव हेंवरा में की गई। सपा प्रमुख महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव और सेक्युलर मोर्चा के नेता शिवपाल सिंह यादव भी उस दौरान वहां पहुंचे। दोनों नेताओं ने पूर्व सांसद के देहांत पर शोक प्रकट किया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, शिवपाल सेक्युलर मोर्चा बनाने के अगले दिन से ही सक्रिय हो गए। वह अब इस मोर्चे को विस्तार देने में जुटे हैं। कहा जा रहा है कि उनके बेटे आदित्य को भी इस मोर्चे में अहम जिम्मा सौंपा जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App