ताज़ा खबर
 

VIDEO: बीच सड़क पुलिसवाले की पिटाई से बौखलाए संजय राउत, मुंबई पुलिस की प्रतिष्ठा से जोड़ तुरंत कार्रवाई की उठाई मांग

संजय राउत ने अपने ट्वीट में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख, मुंबई पुलिस और मुंबई पुलिस के अधिकारी विश्वास नांगरे पाटील को टैग किया है।

वीडियो में एक महिला पुलिस के जवान की वर्दी पकड़े खड़ी दिख रही है। वहां काफी भीड़ भी लगी हुई है।

मुंबई पुलिस के एक सिपाही को पीटने का मामला सामने आया है। एक महिला ने मुंबई ट्रेफिक पुलिस की यूनिफॉर्म पहने सिपाही की बीच चौराहे पर पिटाई कर दी। इसका वीडियो सोशल मीडिया में सामने आया है। इस वीडियो का संज्ञान लेते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने पुलिसवाले की पिटाई करने वाली महिला के खिलाफ तुरंत कार्रवाई करने की मांग की है। संजय राउत ने ट्विटर पर लिखा इस महिला के खिलाफ तत्काल कार्रवाई होनी चाहिए। यह मुंबई पुलिस के सम्मान का विषय है। संजय राउत ने अपने ट्वीट में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख, मुंबई पुलिस और मुंबई पुलिस के अधिकारी विश्वास नांगरे पाटील को टैग किया है।

वीडियो में एक महिला पुलिस के जवान की वर्दी पकड़े खड़ी दिख रही है। वहां काफी भीड़ भी लगी हुई है। पुलिसवाले की वर्दी के बटन भी खुले हैं। महिला पुलिसवाले की वर्दी को पकड़कर खींच रही है। इसके बाद वह पुलिस वाले के थप्पड़ मारती है। एक के बाद एक लगातार चार थप्पड़ मारती है। पुलिस वाला महिला से छूटने की कोशशि में खुद को दूसरी ओर खींचता है। इतने में वीडियो में एक और पुलिसवाला दिखाई देता है। महिला वीडियो में कह रही है कि पुलिस वाला होगा अपने घर पे गाली किसको दिया तूने। महिला लगातार कह कि तूने गाली किसको दिया और पुलिस वाले को थप्पड़ मारे जा रही है। मौके पर और भी पुलिस वाले मौजूद हैं। वीडियो के आखिर में महिला पुलिस भी मौके पर दिखाई दे रही है जोकि पुलिसवाले सिपाही और महिला को अलग करने की कोशिश कर रही है।

एक यूजर @yuga_v108 ने लिखा बेशक, पुलिस के खिलाफ हाथ उठाना गलत है कार्रवाई करने की आवश्यकता है। ऐसा कैसे है कि आपकी सरकार में मंत्री यशोमति ठाकुर को अदालत ने पुलिस की पिटाई के लिए 3 महीने की सजा सुनाई है ..? क्या यह पुलिस के सम्मान की बात नहीं है ..? कानून सभी के लिए समान होना चाहिए। एक यूजर @SeemaMumbai ने लिखा यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक महिला सड़क पर एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी को पीट रही है और जो लोग दर्शकों की भूमिका निभा रहे हैं, वे तमाशा देख रहे हैं। महिला को तुरंत आरोपित किया जाना चाहिए और गिरफ्तार किया जाना चाहिए। पुलिस को पीटना अपराध है।

Next Stories
1 यूपी: दाढ़ी कटवाते ही इंस्पेक्टर इंतसार अली का सस्पेंशन वापस, ज्वायन की ड्यूटी
2 केरल: अस्पताल में COVID पॉजिटिव महिला जमीन पर पड़ी और बेड से बंधी मिली, तस्वीरें सामने आने के बाद कांग्रेस ने की कार्रवाई की मांग
3 Bihar Elections 2020 से पहले BJP को झटका! कैंपेन इंचार्ज देवेंद्र फडणवीस को हुआ COVID-19, पड़ सकता है तैयारी पर असर
ये पढ़ा क्या ?
X