ताज़ा खबर
 

VIDEO: दिग्विजय सिंह पर बिफर पड़े कांग्रेस कार्यकर्ता, हुई तीखी नोंक झोंक

दिग्विजय सिंह प्रदर्शन कर रहे पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचे। दिग्विजय सिंह को देखकर कार्यकर्ता कहते हैं कि हम बात करने आए हैं आपसे, लेकिन आप टाइम नहीं दे रहे हैं हमलोगों को।

पार्टी कार्यकर्ताओं से दिग्विजय सिंह की हुई तीखी बहस फोटो सोर्स – वीडियो स्क्रीनशॉट्स

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह को मध्य प्रदेश में पार्टी कार्यकर्ताओं के गुस्सा का शिकार बन गए। कांग्रेस कार्यकर्ता इस बात से नाराज थे कि घंटों इंतजार करने के बावजूद भी पार्टी के नेता कार्यकर्ताओं से नहीं मिलते। इस बात को लेकर दिग्विजय सिंह और पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच तीखी नोंकझोंक हुई। इस मौखिक नोंकझोंक का एक वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में दिग्विजय सिंह पार्टी कार्यकर्ताओं से घिरे नजर आ रहे हैं और पार्टी कार्यकर्ता दिग्विजय सिंह से कड़वे सवाल पूछ रहे हैं। एक बार तो दिग्विजय सिंह भी पार्टी कार्यकर्ताओं की बात सुनकर नाराज हो जाते हैं।

दरअसल पार्टी नेताओं के ना मिलने से नाराज पार्टी कार्यकर्ता यहां प्रदर्शन कर रहे थे। दिग्विजय सिंह प्रदर्शन कर रहे पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचे। दिग्विजय सिंह को देखकर कार्यकर्ता कहते हैं कि हम बात करने आए हैं आपसे, लेकिन आप टाइम नहीं दे रहे हैं हमलोगों को। मुसलमानों का एक-एक वोट जुटा कर हम देते हैं लेकिन यहां कोई नेता नहीं है। इसपर दिग्विजय सिंह कहते हैं कि सुनो बदतमीजी करने आए हो ना।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25900 MRP ₹ 29500 -12%
    ₹0 Cashback
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback

आपने मुझसे अभी टाइम मांगा है ना। इसपर कार्यकर्ता कहते हैं कि नहीं, सुबह नौ बजे से ही हम लोगों ने टाइम मांगा था लेकिन हम लोगों को नहीं मिला। इसके बाद दिग्विजय सिंह कहते हैं कि मैं यहां एक्स एमएलए से मिला, एक्स एमपी से मिला, कुछ और अन्य नेताओं से मिला, पूर्व जिला परिषद अध्यक्षों से मिला। अभी आप लोगों ने मुझसे मिलने की मांग की है ना तो चलो क्यों नहीं मिलूंगा आपसे।

दिग्विजय सिंह ने हंगामा कर रहे पार्टी कार्यकर्ताओं को किसी तरह शांत कराया। बहरहाल आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में इसी साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस चुनाव में दिग्विजय सिंह को बड़ी जिम्मेदारी देते हुए उन्हें को-ऑर्डिनेशन कमेटी का चेयरमैन बनाया है। मध्य प्रदेश में इस बार कांग्रेस के सामने भाजपा की शिवराज सिंह चौहान को सत्ता से बेदखल करनी की बड़ी चुनौती है। पार्टी इस चुनाव को किसी भी हाल में जीतना चाहती है। लेकिन राज्य में पार्टी कार्यकर्ताओं की नाराजगी पार्टी को भारी भी पड़ सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App