ताज़ा खबर
 

UP: बांदा में कथित तौर पर नॉनवेज की दुकानें बंद कराने से बढ़ा तनाव, VHP ने कहा- डीएम ने कुछ नहीं किया इसलिए हम कर रहे

विश्व हिंदू परिषद के कुछ कार्यकर्ताओं द्वारा बांदा शहर में अवैध दुकानें बंद कराए जाने के बाद यहां स्थिति तनाव पूर्ण स्थिति उत्पन्न हो गई। यही नहीं विहिप कार्यकर्ता और वर्ग विशेष के कुछ लोगों के बीच तीखी नोंक-झोंक भी हुई है।

Author बांदा | July 20, 2019 11:02 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स- जनसत्ता

विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कुछ कार्यकर्ताओं द्वारा बांदा शहर में घूम-घूम कर मांस की कथित अवैध दुकानें बंद कराए जाने के बाद यहां स्थिति तनाव पूर्ण हो गई। अपर पुलिस अधीक्षक लाल भरत कुमार पाल ने बताया कि शुक्रवार (19 जुलाई) दोपहर मोटरसाइकिल सवार विहिप के करीब 50-60 कार्यकर्ताओं ने शहर में घूम-घूम कर मांस की करीब सौ कथित अवैध दुकानें बंद करवाई, जिसके बाद शहर के मुस्लिम बहुल मोहल्ले हाथीखाना में तनाव पूर्ण स्थिति बन गई। विहिप कार्यकर्ता और वर्ग विशेष के कुछ लोगों के बीच तीखी नोंक-झोंक भी हुई है।

शांति बनाए रखने की अपील की गईः पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जिले के लगभग सभी थानों का पुलिस बल शहर बुला लिया गया है और मामले में कड़ी नजर रखी जा रही है। शाम को खुद पुलिस अधीक्षक गणेश प्रसाद साहा ने करीब एक हजार पुलिस जवानों के साथ शहर के अन्य मोहल्लों के अलावा हाथीखाना मोहल्ले में पैदल मार्च किया। दोनों पक्षों से शांति बनाए रखने की अपील की गई। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के जिलाध्यक्ष चंद्रमोहन बेदी का आरोप है कि ”शहर में मांस की ज्यादातर दुकानें अवैध हैं जिन्हें हटवाने के लिए जिलाधिकारी को तीन जुलाई (बुधवार) को ज्ञापन दिया गया था। जब जिलाधिकारी ने कुछ नहीं किया, तब आज विहिप के कार्यकर्ता इन दुकानों को खुद बन्द करवाने पुलिस के साथ गए थे।

National Hindi News, 20 July 2019 LIVE Updates: दिनभर की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

मामले की जांच जारीः विहिप कार्यकर्ताओं द्वारा मुस्लिम बहुल इलाकों में लोगों के साथ अभद्रता के आरोपों पर उन्होंने कहा कि किसी कार्यकर्ता ने किसी के साथ अभद्रता नहीं की है। पुलिस अधीक्षक गणेश प्रसाद साहा ने बताया कि किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी। मामले की जांच करवाई जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App