ताज़ा खबर
 

Gurmeet Ram Rahim Singh, Scribe Murder Case: पत्रकार हत्या केस में गुरमीत राम रहीम समेत 4 दोषी, 17 जनवरी को सजा का ऐलान

Gurmeet Ram Rahim Singh Insan, Scribe Murder Case Latest News Updates: पत्रकार हत्या मामले में हरियाणा के पंचकूला स्थित सीबीआई कोर्ट ने कुलदीप सिंह, कृष्ण लाल और निर्मल सिंह को भी दोषी करार दिया।

Gurmeet Ram Rahim Singh, Scribe Murder Case: सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम समेत चार को दोषी करार दिया है। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

Gurmeet Ram Rahim Singh Insan, Scribe Murder Case: पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह समेत चार लोगों को पंचकूला स्थित केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ( सीबीआई) की विशेष अदालत ने शुक्रवार (11 जनवरी, 2019) को दोषी करार दिया। रहीम इस मामले में मुख्य दोषी है, जो सुनारिया जेल में पहले से बंद है। दो साधवियों से बलात्कार के मामले में वह 20 साल जेल की सजा काट रहा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ताजा मामले में उसकी पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कराई गई।  इससे पहले, दोनों पक्षों के लोग कोर्ट पहुंचे थे। राम रहीम के अलावा कोर्ट ने कुलदीप सिंह, कृष्ण लाल और निर्मल सिंह को भी दोषी घोषित किया है, जो कि फैसले से पहले सीबीआई कोर्ट पहुंचे थे। अब 17 जनवरी को इन चारों की सजा का ऐलान किया जाएगा।

Live Blog

15:32 (IST)11 Jan 2019
4 दोषियों को कब होगी सजा?

गुरमीत राम रहीम चार लोग पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में शुक्रवार को दोषी ठहराए गए हैं। तीन अन्य दोषियों में कुलदीप सिंह, कृष्ण लाल और निर्मल सिंह हैं। इन तीनों को अब 17 जनवरी को सजा सुनाई जाएगी।

14:19 (IST)11 Jan 2019
पहले से जेल में बंद है राम रहीम, कोर्ट के बाहर पहुंचे दोनों पक्ष

अदालत के फैसले के बाद कानून व्यवस्था बरकरार रहे, इसके लिए पुलिस-प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए हैं। हरियाणा और पंजाब में शुक्रवार (11 जनवरी, 2019) सुबह से कई जगह सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई। कहीं 500 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं, तो किसी जगह पर ड्रोन से इलाके की निगरानी हो रही है। फिलहाल 51 वर्षीय राम रहीम रोहतक की सुनारिया जेल में बंद है और साधवियों से रेप के मामले में 20 साल की सजा काट रहा है। वहीं, पंचकूला स्थित कोर्ट के बाहर सुनवाई के लिए दोनों पक्ष पहुंच चुके हैं।

13:41 (IST)11 Jan 2019
पंचकूलाः कोर्ट के बाहर जुटी पत्रकारों, पुलिस की भीड़

राम रहीम पर पत्रकार की हत्या के मामले में फैसला आने से पहले पंचकूला जिला अदालत के बाहर पत्रकारों का मजमा लगा है। मीडियाकर्मी अपने कैमरों के साथ बाहर जुटे हैं, जबकि सुरक्षा के लिहाज से वहां भारी पुलिस बल भी तैनात है।

13:18 (IST)11 Jan 2019
पूरा सच के जरिए हुए थे कई चौंकाने वाले खुलासे

गुरमीत राम रहीम को लेकर पत्रकार रामचंद्र छत्रपति ने पूरा सच नामक अपने अखबार में कई चौंकाने वाले खुलासे किए थे। धार्मिक डेरे को लेकर उन्होंने कई रिपोर्ट्स लिखीं थीं। वहीं, गुप्त नाम से भेजे गए कुछ ऐसे पत्र प्रकाशित भी किए थे, जिनमें डेरे के भीतर महिलाओं से राम रहीम के शोषण करने की घटनाओं का जिक्र था। 

12:37 (IST)11 Jan 2019
VIDEO: हर हरकत पर निगाह रखे है पुलिस

12:17 (IST)11 Jan 2019
कौन है राम रहीम?

राम रहीम का पूरा नाम गुरमीत राह रहीम सिंह है। वह 51 साल का है और डेरा सच्चा सौदा का प्रमुख है। डेरा की स्थापना 29 अप्रैल को 1948 में मस्ता बलूचिस्तानी ने की थी। डेरा का मुख्यालय हरियाणा के सिरसा में है और देश भर में उसके लगभग 46 आश्रम फैले हैं। डेरा प्रमुख जेल में होने के बाद भी कई लोगों के दिलो-दिमाग में बसा है। साल 2015 में उसे इंडियन एक्सप्रेस ने 100 सबसे शक्तिशाली भारतीयों की सूची में 96वें पायदान पर जगह दी थी। हालांकि, विगत सालों में वह विवादों में भी घिरा रहा है। 2002 के बाद उसका नाम बलात्कार और हत्या समेत कई मामलों में सामने आया था।

11:49 (IST)11 Jan 2019
राम रहीम के कहने पर हुई थी छत्रपति की हत्याः पूर्व ड्राइवर

पूर्व ड्राइवर खट्टा सिंह ने पूर्व में बताया था कि छत्रपति की हत्या राम रहीम के कहने पर हुई थी। सूत्रों के मुताबिक, छत्रपति ने अपने अखबार के जरिए बताया था कि कैसे डेरा गलत तरीकों और जरियों से एक ताकतवर सामाज्र्य बन गया। खट्टा, सीबीआई के अहम गवाहों में से एक हैं, जिससे पहले जांच एजेंसी ने हत्या मामले में 2007 में चार्जशीट दाखिल की थी।

11:24 (IST)11 Jan 2019
साधवियों से रेप का दोषी है राम रहीम, फैसले के बाद भड़की थी हिंसा

खुद को बाबा बताने वाला गुरमीत राम रहीम इस वक्त सलाखों के पीछे है। साधवियों से रेप के दोष में वह 20 साल जेल की सजा काट रहा है। 25 अगस्त 2017 को उसे दोषी करार दिए जाने के बाद पंचकूला में हिंसा भड़क उठी थी। उस दौरान लगभग 30 लोग मारे गए थे, जबकि कई लोग जख्मी हुए थे। वहीं, सिरसा जिले में भी हिंसा हुई थी, जिसमें छह लोगों की जान चली गई थी और कुछ घायल हुए थे।

10:53 (IST)11 Jan 2019
यहां ड्रोन से की जा रही निगरानी

पंचकूला के डीसीपी कमलदीप गोयल बोले, "यहां भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। कोर्ट परिसर के आसपास लगभग 500 पुलिसकर्मी मुस्तैद किए गए हैं। साथ ही बैरिकेडिंग भी की गई है।" वहीं, रोहतक रेंज के आईजी संदीप खिरवार ने बताया, "हमने जेल के आसपास 2-टियर सुरक्षा व्यवस्था का बंदोबस्त किया है। 500 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं और एरियल ड्रोन भी लगाए गए हैं। हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि किसी प्रकार से लोगों को दिक्कत पैदा न हो।"

10:34 (IST)11 Jan 2019
कहीं भी नहीं जुटने दी जा रही है भीड़

हरियाणा में, विशेषकर पंचकूला, सिरसा (डेरा मुख्यालय) और रोहतक जिलों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए हैं। यहां कानून व्यवस्था से जुड़ी किसी भी स्थिति से निपटने के लिये राज्य सशस्त्र पुलिस की कई कंपनियों, दंगा विरोधी पुलिस और कमांडो बल को तैनात किया जा रहा है। हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) मोहम्मद अकील ने कहा, "हरियाणा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।" पुलिस अधिकारी ने बताया कि सभी जिलों की पुलिस को लोगों को गैरजरूरी रूप से जमा होने से रोकने और अतिरिक्त निगरानी रखने के निर्देश दिये गए हैं। उन्होंने कहा कि कई इलाकों में नाकेबंदी भी की गई है। पुलिस ने कहा कि सिरसा में डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय के नजदीक अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। 

10:11 (IST)11 Jan 2019
पंचकूलाः CBI कोर्ट के पास 500 पुलिसकर्मी तैनात

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के खिलाफ हत्या के मामले में आज कोर्ट का फैसला आएगा, जिसे ध्यान में रखते हुए हरियाणा के रोहतक व पंचकूला में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। जगह-जगह पुलिस बल तैनात किया गया है, ताकि किसी कानून व्यवस्था बरकरार रहे। पंचकूला में सीबीआई स्पेशल कोर्ट के आसा-पास सुरक्षा इंतजामात पर पंचकूला के डीसीपी कमलदीप गोयल बोले, 'यहां भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। कोर्ट परिसर के आसपास लगभग 500 पुलिसकर्मी मुस्तैद किए गए हैं। साथ ही बैरिकेडिंग भी की गई है।'

X