ताज़ा खबर
 

यूपी: ट्रेन की बोगियां छोड़कर रवाना हो गया इंजन, नाराज यात्रियों ने स्टेशन पर की तोड़फोड़

इंजन के इस तरह बोगी से अलग हो जाने का कारण स्टेशन मास्टर ने कपलिंक खराब होना बताया। लोको पायलट का कहना है कि यदि ट्रेन रफ्तार में होती तो कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था।

हरदत्तपुर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंजन बोगी से अलग हुआ। जिसे स्टेशन के गेट पर ही रोक लिया गया। नाराज यात्रियों ने किया हंगामा

पूर्वोत्तर रेलवे के हरदत्तपुर रेलवे स्टेशन पर मुंबई से मुजफ्फरपुर जा रही पवन एक्सप्रेस का इंजन बोगी से अलग होकर बनारस की ओर रवाना हो गया। इसके तुरंत बाद इसकी सूचना स्टेशन मास्टर ने वॉकी-टॉकी पर लोको पायलट को दी और इंजन को स्टेशन के गेट संख्या 8 पर रोका गया। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही यात्री नाराज हो गए और उन्होंने स्टेशन पर तोड़फोड़ कर दी और स्टेशन मास्टर की हरी झंडी समेत अन्य सामान उठा ले गए। पुलिस और आरपीएफ ने मौके पर पहुंचकर स्थिति संभाली।

मुंबई से मुजफ्फरपुर जा रही पवन एक्सप्रेस मंगलवार दोपहर को 2.05 बजे हरदत्तपुर स्टेशन से रवाना हो रही थी। इसी दौरान ट्रेन का इंजन अचानक बोगियों से अलग हो गया, जिसे स्टेशन के गेट नंबर 8 पर ही रोक लिया गया। घटना की सूचना मिलते ही यात्रियों ने हंगामा कर दिया। जिसके बाद स्टेशन मास्टर ने इसकी सूचना पुलिस और आरपीएफ को दी। इस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर किसी तरह लोगों को शांत कराया। करीब 3.35 बजे दूसरी ट्रेन के इंजन से बोगी को जोड़कर ट्रेन को रवाना किया गया।

HOT DEALS
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 12999 MRP ₹ 30999 -58%
    ₹1500 Cashback
  • Nokia 6.1 32 GB Black
    ₹ 14331 MRP ₹ 16999 -16%
    ₹1720 Cashback

इंजन के इस तरह बोगी से अलग हो जाने का कारण स्टेशन मास्टर ने कपलिंक खराब होना बताया। गौरतलब है कि इलाहाबाद के दारागंज स्टेशन पर भी यह समस्या आयी थी, जिस पर लोको पायलट ने तकनीकी अधिकारियों को इसकी सूचना देकर समस्या का निदान कराया था। लेकिन हरदत्तपुर रेलवे स्टेशन पर एक बार फिर से यह समस्या आ गई। यात्रियों ने इस पर कड़ी नाराजगी जतायी। उनका कहना था कि यदि ट्रेन की रफ्तार तेज होती तो बड़ा हादसा भी हो सकता था। ट्रेन के पायलट का भी मानना है कि यदि ट्रेन रफ्तार में होती तो कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App