ताज़ा खबर
 

वाराणसी: टॉयलेट इस्तेमाल न करके बना दिया स्टोररूम! प्रशासन ने गांववालों को दी ऐक्शन की चेतावनी

वाराणसी जिला प्रशासन ने चेतावनी दी है कि ग्रामीण इलाकों में रहने वाले उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, जिन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत बने शौचालयों को स्टोर रूम बना लिया है।

Author वाराणसी | June 16, 2019 2:29 PM
प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

वाराणसी के ग्रामीण इलाकों में काफी लोग स्वच्छ भारत मिशन के तहत बने शौचालयों का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। जांच में पता चला है कि काफी लोग इन टॉयलेट्स का इस्तेमाल स्टोर रूम के रूप में कर रहे हैं। ऐसे में जिला प्रशासन ने चेतावनी दी है कि ग्रामीण इलाकों में रहने वाले उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, जिन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत बने शौचालयों को स्टोर रूम बना लिया है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश भर में शौचालय बनाने का अभियान चलाया था।

जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह के मुताबिक, जांच में सामने आया है कि ग्रामीण इलाकों में काफी लोग इन टॉयलेट्स का इस्तेमाल लकड़ी या कबाड़ रखने के लिए कर रहे हैं। ऐसे में इन टॉयलेट्स का इस्तेमाल उस वजह से नहीं हो रहा है, जिनके लिए इनका निर्माण किया गया था। अब प्रशासन ने सबसे पहले ऐसे लोगों को नोटिस भेजने का फैसला किया है।

National Hindi News, 16 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

जानकारी के मुताबिक, ये नोटिस उन लोगों को जारी किए जाएंगे, जो टॉयलेट का सही इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। उनसे पूछा जाएगा कि अगर वे टॉयलेट इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तो इन्हें बनाने में खर्च होने वाली रकम उनसे क्यों नहीं वसूली जाए? वहीं, जो लोग नोटिस मिलने के बाद भी नहीं सुधरेंगे, उन पर भारी जुर्माना लगाया जाएगा। इसके बाद प्रशासन ने उन लोगों ने अनुदान राशि वसूलने का फैसला किया है, जो टॉयलेट्स का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं।

Bihar News Today, 16 June 2019: बिहार से जुड़ी हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने इस संबंध में जिला पंचायती राज अधिकारी को निर्देश दे दिए हैं। डीएम ने कहा है कि स्वच्छाग्रहियों (स्वच्छता वॉलंटियर्स) की टीम बनाई जाए, जो हर विकास खंड का सर्वे करेगी और टॉयलेट्स का इस्तेमाल नहीं करने वालों को नोटिस देगी। बता दें कि जांच के दौरान डीएम को तेलाही गांव के टॉयलेट्स में लकड़ी व कबाड़ रखा मिला था। इसके बाद उन्होंने उन टॉयलेट के ओनर्स को बुलाया और उनकी राय जानी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App