ताज़ा खबर
 

समोसे वाले का बेटा बना EAMCET का टॉपर, JEE मेन्स में अॉल इंडिया लेवल पर आई थी छठी रैंक

मोहन कहते हैं कि अब वह आईआईटी चेन्नै में बीए (इंजीनियरिंग फिजिक्स) में एडमिशन चाहते हैं।

हैदराबाद शहर के कुक्कटपल्ली हाउसिंग बोर्ड में रहने वाले मोहन की पढ़ाई में गरीबी कभी भी रुकावट नहीं बनी।

अॉल इंडिया लेवल पर छठी रैंक हासिल करने वाले हैदराबाद के वी मोहन अभ्यस ने एक और धमाका किया है। उन्होंने अपनी काबिलियत और मेहनत केबल पर आंध्र प्रदेश के इंजीनियरिंग एग्रीकल्चर एंड मेडिकल कॉमन एंट्रेंस टेस्ट  (EAMCET) में पहला स्थान हासिल किया है। हैदराबाद शहर के कुक्कटपल्ली हाउसिंग बोर्ड में रहने वाले मोहन की पढ़ाई में गरीबी कभी भी रुकावट नहीं बनी। मोहन के पिता वी सुब्बा राव समोसे बेचते हैं। वह अपनी पत्नी के साथ घर पर ही समोसे बनाते हैं। राव साइकल पर आस-पास के इलाकों में समोसे बेचते हैं। कुक्कटपल्ली के कुछ खाने के स्टॉल उनके समोसे खरीदते हैं, जिससे उनका घर खर्च चलता है। मोहन भी अपने पैरंट्स की समोसे बनाने में मदद करते हैं। आंध्र प्रदेश के पश्चिमी गोदावरी से ताल्लुक रखने वाले सुब्बा राव 13 साल पहले बेहतर जिंदगी की तलाश में शहर आ गए थे। मोहन कहते हैं कि अब वह आईआईटी चेन्नै में बीए (इंजीनियरिंग फिजिक्स) में एडमिशन चाहते हैं। इसके साथ-साथ वह बीएसपी भी करना चाहते हैं। उनका सपना एक साइंटिस्ट बनने का है।

Next Stories
1 बेटी की शादी में पुलिस ने बाप को क्यों पहना दी हथकड़ी, जानिए
2 चेन्नई की अदालत ने राजद्रोह के मामले में एमडीएमके अध्यक्ष वाइको को दी जमानत, तीन अप्रैल से थे जेल में बंद
3 17 सर्जरी और एक रॉन्ग नंबर के बाद एसिड अटैक सर्वाइवर को मिला सच्चा प्यार, जानिए कैसे परवान चढ़ी मोहब्बत
ये पढ़ा क्या?
X