ताज़ा खबर
 

Aadhaar Card से पुलिस ने किया चोरी का खुलासा, एक माह में चोर को धर दबोचा, जानें पूरा मामला

पूछताछ में नीरज ने कबूला कि वह इससे पहले भी चोरियां कर चुका है और 2012 में 65 हजार रुपए के मोबाइल फोन चुराने के मामले में जेल भी जा चुका है।

crime news, thief, aadhaar card, shop, store, dehradun, uttarakhand, state news, crime news, hindi newsतस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में पुलिस ने चोरी के मामले का खुलासा आधार कार्ड के जरिए किया है। अधिकारियों ने यह कार्रवाई वारदात के महज एक माह में की और चोर को धर दबोचा। दरअसल, जनरल स्टोर में घुसे चोर ने सारा माल तो पार कर दिया था, पर वह उस दौरान अपना आधार कार्ड वहीं गिरा आया था। पुलिस ने इसी दस्तावेज के आधार पर बुधवार (17 जुलाई, 2019) को गिरफ्तार किया, जबकि यह मामला जून का है।

‘एचटी’ की रिपोर्ट के मुताबिक, चोर की शिनाख्त 27 वर्षीय नीरज के रूप में हुई है, जो कि देहरादून का निवासी है। मामले की जांच करने वाले सब-इंस्पेक्टर लोकेंद्र बहुगुणा के हवाले से अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट में आगे कहा गया- पीड़ित अनिल सेठी की दुकान में पिछले महीने यह वारदात हुई थी। आरोपी दुकान की टिन-सीलिंग खोलकर अंदर घुसा था, जिसके बाद उसने चोरी को अंजाम दिया।

पुलिस के अनुसार, घटना के दौरान दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों में तो वह कैद हो गया, मगर उसका चेहरा फुटेज में साफ नजर नहीं आया। ऐसे में पुलिस को उसे पहचानने में खासा दिक्कत हो रही थी। इसी बीच, बुधवार को सेठी ने दुकान में सीलिंग की सफाई का फैसला किया, उसी दौरान उन्हें वहां एक पर्स पड़ा मिला। वह पर्स नीरज का था, जिसमें उसका आधार कार्ड भी था।

बहुगुणआ ने आगे कहा, “आनन-फानन में पीड़ित ने पुलिस को यह सूचना दी, जिसके बाद आधार के लिखे पते पर छापेमारी की गई। हालांकि, पुलिस वहां पहुंची, तो वहां नीरज न मिला। पता लगा कि वह कहीं और रहता है।” पुलिस ने इसके बाद नीरज को गिरफ्तार करने के लिए जगह-जगह मुखबिर लगाए, जिसके बाद शहर में उसकी लोकेशन पता की जा सकी। इन्हीं इन्पुट्स के आधार पर पुलिस ने फिर छापे मारे और उसे अरेस्ट किया।

पूछताछ में नीरज ने कबूला कि वह इससे पहले भी चोरियां कर चुका है और 2012 में 65 हजार रुपए के मोबाइल फोन चुराने के मामले में जेल भी जा चुका है। पुलिस ने बताया, “एक साल पहले उसके माता-पिता गुजर चुके हैं। उसने माना कि वह अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए ये सब करने लगा। फिलहाल उससे पूछताछ जारी है और यह पता लगाने की कोशिश हो रही है कि कहीं उसने और वारदात तो नहीं की हैं, जिसके बाद उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तीन करोड़ से ज्यादा कांवड़ियों के पहुंचने की उम्मीद
2 हिमालयी क्षेत्र में पक्षियों की एक नई प्रजाति मिली
3 जलते जंगल, बेहाल बंदोबस्त
यह पढ़ा क्या?
X