ताज़ा खबर
 

जहरीली शराब के कहर के बाद अब धरपकड़, मुख्य आरोपी की पहचान हुई, तलाश में छापे

उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के विभिन्न गांवों में जहरीली शराब पीकर सैकड़ों लोगों की मौत हो जाने के मामले का उत्तर प्रदेश के सहारनपुर व उत्तराखंड की हरिद्वार जिले की पुलिस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए 48 घंटे के भीतर खुलासा कर दिया है।

Author रुड़की | February 11, 2019 5:45 AM
जहरीली शराब से मौत के बाद मातम फोटो सोर्स- ट्विटर/ANI

सुनील दत्त पांडेय

उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के विभिन्न गांवों में जहरीली शराब पीकर सैकड़ों लोगों की मौत हो जाने के मामले का उत्तर प्रदेश के सहारनपुर व उत्तराखंड की हरिद्वार जिले की पुलिस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए 48 घंटे के भीतर खुलासा कर दिया है। इस मामले में शराब की आपूर्ति करने वाले दो शराब माफिया को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके अलावा कुछ अन्य लोगों की तलाश की जा रही है। इस मामले में दोनों ही प्रदेशों की पुलिस ने संयुक्त रूप से विशेष अभियान चलाया था। दो प्रदेशों के पुलिस प्रशासन को हिला कर रख देने वाले इस मामले को लेकर रविवार को हरिद्वार के एसएसपी जन्मेजय खंडूरी और सहारनपुर के एसएसपी विनोद कुमार ने रुड़की सिविल लाइन कोतवाली में संयुक्त रूप से पत्रकार वार्ता करते हुए इस कांड के बारे में जानकारी दी।

दोनों पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में हरिद्वार व सहारनपुर पुलिस की संयुक्त टीम काम कर रही थी। इस मामले में बालूपुर के दो लोगों फकीरा (61) और उसके पुत्र सोनू (25) को गिरफ्तार कर लिया गया। इनके अलावा इस मामले में सहारनपुर के गागलहेडी थाने के गांव पुंडेन के सरदार हरदेव सिंह और सुखविंदर, हरिद्वार के बिंदु खड़क के रहने वाले धारा फरार हैं। इनकी तलाश की जा रही है।

दोनों जिलों के एसएसपी ने बताया कि पूछताछ में गिरफ्तार किए गए सोनू ने बताया कि पांच फरवरी को वह पुंडेन से सुबह पांच बजे सरदार हरदेव के पिता सुखविंदर के यहां से 35 बोतल कच्ची शराब लेकर आया था। उसने घर आकर उसे खोल कर देखा तो वह कुछ अजीब सी लग रही थी क्योंकि वह सफेद दूधिया रंग की थी। फिर उसने सरदार हरदेव को फोन कर उसने पूछा कि यह सफेद रंग की क्यों है तो उसने कहा कि बनाते समय उसका रंग काला हो गया था, इसलिए मैंने इसमें दूध मिला दिया था। शराब में कुछ डीजल की बदबू आ रही थी। सोनू ने जब इस बाबत पूछा तो हरदेव ने उसे बताया कि बर्तन डीजल वाला था इसलिए हल्की डीजल की बदबू आ रही है। दोनों एसएसपी ने बताया कि इसी शराब के कारण यह मौतें हुई हैं। कच्ची शराब गन्ने के खेत से बरामद की गई।
पुलिस लगातार सरदार हरदेव की तलाश में दबिश दे रही है और उसकी शराब की भट्ठी को नष्ट कर दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App