ताज़ा खबर
 

10 किलो वजन और 36 इंच लंबाई वाला चंदू दे रहा है 12वीं का एग्जाम, हर तरफ हो रही है चर्चा

पिथौड़ागढ़ के बस्तड़ी गांव के रहने वाले चंद्रशेखर भट्ट उर्फ चंदू बोर्ड की परिक्षाएं दे रहे छात्रों में सबसे छोटे कद का है। चंदू की लंबाई मात्र 36 इंच है।

उत्तराखंड में इन दिनों दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परिक्षाएं चल रही हैं। यूं तो ये परिक्षाएं हर साल होती हैं, लेकिन इसबार इंटरमीडिएट का एग्जाम दे रहे एक लड़के ने सबका ध्यान अपनी तरफ खींच लिया है। इस लड़के ने साबित कर दिया है कि कद भले ही छोटा क्यों ना हो..बड़े हौंसलों से कुछ भी हासिल किया जा सकता है। जी हां पिथौड़ागढ़ के बस्तड़ी गांव के रहने वाले चंद्रशेखर भट्ट उर्फ चंदू बोर्ड की परिक्षाएं दे रहे छात्रों में सबसे छोटे कद का है। चंदू की लंबाई मात्र 36 इंच है। 19 साल के चंदू का ये कद हर किसी के लिए हैरान कर देने वाला है।

एक जन्मजात बीमारी के चलते चंदू की उम्र तो बढ़ गई लेकिन ना तो उसका कद बढ़ा और ना ही लंबाई बढ़ी। 19 साल के हो जाने के बाद भी चंदू का वजन मात्र 10 किलोग्राम है। लेकिन सिर्फ 10 किलो वजन और 36 इंच की लंबाई वाले चंदू के हौंसले किसी विशाल चट्टान सरीखे मजबूत हैं। आज 12वीं की परिक्षा दे रहे हैं और इनका उत्साह देखने लायक है। इंटर की पढ़ाई पूरा करने के बाद चंदू कोई प्रोफेशनल कोर्स करना चाहते हैं।

शारीरिक रूप से अक्षम चंद्रशेखर को उनके माता पिता गोद में लेकर परिक्षा केंद्र तक पहुंचाते हैं। 2016 में इनका गांव बस्तड़ी बादल फटने के कारण पूरी तरह से नष्ट हो गया था। इन विषमताओं के बावजूद भी चंदू ने पढ़ाई नहीं छोड़ी और पूरी लगन से परिक्षा की तैयारी करते रहे। अपने स्कूल में पढ़ाई लिखाई में माहिर चंदू अपने शिक्षकों के भी काफी अजीज हैं। चंदू के मिलनसार मिजाज के कारण साथ पढ़ने वाले सारे बच्चे उनमें अपना एक अच्छा दोस्त देखते हैं। स्कूले के छात्र छात्राओं का उनसे खास लगाव है। शुक्रवार को जब पहला पेपर देने पहुंचा तो उसने कहा कि इंटर परीक्षा भी वह अच्छे अंक से उत्तीर्ण करके दिखाएगा।

मध्य प्रदेश: जिन्न का नहीं स्कूल टीचर का था बच्चा, छात्रा और परिजन बता रहे थे जिन्न की संतान, देखें वीडियो:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 बेदाग छवि के तेजतर्रार नेता हैं उत्‍तराखंड के नए सीएम, अवैध वसूली पर उखाड़ फेंकी थी बैरिकेडिंग
2 अब देशभर के जानवरों का होगा अपना यूनीक आधार नंबर, उनमें लगाए जाएंगे माइक्रो चिप्स, उत्तराखंड में हुई शुरुआत
ये पढ़ा क्या?
X