ताज़ा खबर
 

तीन तलाक: न्यूजीलैंड से फोन पर मिला तलाक! पत्नी ससुराल गई तो फेंका तेजाब

न्यूजीलैंड में नौकरी करने वाले मतलूब ने अपनी पत्नी रेहाना को फोन पर तलाक दे दिया और दूसरी शादी कर ली।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

न्यूजीलैंड में नौकरी कर रहे युवक ने अपनी पत्नी को फोन पर तलाक देकर न्यूजीलैंड में ही दूसरी शादी रचा ली। जब तलाक महिला इंसाफ मांगने के लिए अपने ससुराल गई तो उसके ससुराल वालों ने उसके प्रति सहानुभूति दिखाने की बजाय उस पर तेजाब डालकर उसे मार डालने के कोशिश की। यह मामला उत्तराखंड के कुमाऊ मंडल के खटीमा की रहने वाली मुसलिम महिला रेहना के साथ घटा है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है और दोषियों के खिलाफ जांच शुरूकर दी है। न्यूजीलैंड में नौकरी करने वाले मतलूब ने अपनी पत्नी रेहाना को फोन पर तलाक दे दिया और दूसरी शादी कर ली। रेहाना नैनीताल हाईकोर्ट के पूर्व जज की नजदीकी रिश्तेदार है।

मूल रूप से पीलीभीत निवासी मतलूब का निकाह 24 अक्तूबर, 1999 को खटीमा निवासी रेहाना के साथ हुआ था। शादी के बाद दोनों अमेरिका चले गए। रेहाना का आरोप है कि मतलूब वहां दूसरी महिलाओं के साथ क्लब में ऐश करने लगे जिसका विरोध करने पर वो रेहाना को पिटता था। इस दौरान 2002 में रेहाना ने एक लड़के को भी जन्म दिया लेकिन हालात नहीं बदले। लिहाजा रोजाना की मारपीट से अजीज आई रेहाना ने एक दिन अमेरिकी पुलिस को बुला लिया। इसके बाद उसके शोहर मतलूब ने माफी मांग कर मामले का निपटारा कर लिया। और 2011 में हिंदुस्तान वापस लौट आए।

हिंदुस्तान आकर भी हालात नहीं बदले। अलबत्ता इतना जरूर हुआ कि मतलूब रेहाना को उसके खटीमा स्थित घर छोड़ कर न्यूजीलैंड चला गया। मतलूब रेहाना व उसके परिजनों को कह कर तो ये गया था कि कुछ दिन बाद रेहाना को भी न्यूजीलैंड बुला लेगा। लेकिन ऐसा नहीं करने की जगह उसने रेहाना को फोन तक करना बंद कर दिया। काफी समय बीत जाने के बावजूद जब मतलूब व उसके परिजनों का कोई संदेश नहीं आया तो रेहाना अपने परिजनों के साथ पीलीभीत स्थित अपनी ससुराल चली गई।  ससुराल पहुंच कर उसे पता चला कि उसका शोहर मतलूब तो उसे फोन पर ही तलाक दे चुका है। इसके चलते उसके ससुराल वालों ने भी उसे घर पर रखने से मना कर दिया। फिलहाल हाई कोर्ट नैनीताल के निर्देश पर रेहाना को उसकी ससुराल में सर छिपाने की जगह तो मिल गई है लेकिन उसे अपनी जान के लाले पड़ गए हैं। रेहाना कोर्ट का आदेश मिलने के बाद 3 अप्रैल, 2017 को ससुराल पहुंची तो ससुराल वालों ने उसके और उसके बेटे के कमरे की बिजली-पानी बंद कर दी और फिर एक दिन उस पर तेजाब फेंक दिया। इसके चलते उसकी जान पर बन आई।

अमेरिकी पुलिस के दबाव में शौहर ने मांगी थी माफी

मूल रूप से पीलीभीत निवासी मतलूब का निकाह 24 अक्तूबर, 1999 को खटीमा निवासी रेहाना के साथ हुआ था। शादी के बाद दोनों अमेरिका चले गए। रोजाना की मारपीट से अजीज आई रेहाना ने एक दिन अमेरिकी पुलिस को बुला लिया। इसके बाद मतलूब ने माफी मांग कर मामले का निपटारा कर लिया और वे 2011 में हिंदुस्तान वापस लौट आए।

नैनीताल हाई कोर्ट की शरण के बावजूद जान पर बनी
जब रेहाना अपने परिजनों के साथ पीलीभीत स्थित ससुराल गई। तो उसे पता चला कि उसका शौहर मतलूब तो उसे फोन पर ही तलाक दे चुका है। नैनीताल हाई कोर्ट के निर्देश पर रेहाना को ससुराल में सर छिपाने की जगह मिली तो ससुराल वालों ने उसके कमरे की बिजली व पानी बंद कर दी और फिर एक दिन उस पर तेजाब फेंक दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App