ताज़ा खबर
 

प्राईवेट स्कूल में हुए टेस्ट में कम नंबर लाईं छात्राएं तो टीचर ने छात्रों के सामने की गंदी हरकत

निजी स्कूल में टीचर ने छात्राओं को कम नंबर लाने की ऐसी सजा दी जिससे छात्राएं अभी तक सदमें हैं।

Author Updated: August 2, 2017 1:04 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

उत्तराखंड के एक स्कूल में इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां राजधानी देहरादून के एक निजी स्कूल में टीचर ने छात्राओं को कम नंबर लाने की ऐसी सजा दी जिससे छात्राएं अभी तक सदमें हैं। खबर के अनुसार जेपी इंटरनेशनल स्कूल में हुए एक टेस्ट में तीन छात्राएं स्कूल टीचर के मनमुताबिक नंबर नहीं ला पाईं। जिससे नाराज टीचर ने छात्राओं को निर्वस्त्र कर पूरे स्कूल में उन्हें नग्न अवस्था घुमाया। अमर उजाला की खबर के अनुसार छात्राओं के इंग्लिश टेस्ट पेपर को चैक करने के दौरान स्कूल टीचर खासी नाराज हो गईं। जिसके बाद टीचर ने पहले छात्राओं को स्कूल की बैंच पर खड़ा किया। बाद में कपड़े उतरवाकर पूरे स्कूल में घुमाया। बता दें कि स्कूल में छात्र भी पढ़ते हैं। खबर के अनुसार छात्राओं ने घटना की जानकारी परिजनों को दी है, जिसपर शिकायत होने पर स्कूल प्रशासन ऐसी किसी भी घटना से इंकार किया है। हालांकि बाद में परिजनों ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

जानकारी के लिए बता दें कि बीते मंगलवार (1 अगस्त 2017) को जेपी इंटरनेशनल स्कूल में इंग्लिश का टेस्ट था। ये टेस्ट छठी क्लास के छात्रों का लिया गया। जिसमें तीन छात्रों के नंबर काफी कम आए। इससे इंग्लिश की टीचर काफी आक्रोशित हो गईं और छात्राओं पर गुस्सा उतारने के लिए उन्होंने इस तरह की हरकत की। घटना के बाद पूरी खबर आसपास के इलाकों में तेजी से फैल गई। मामले में पुलिस स्टेशन इंचार्ज सुरेश बलोंदी ने बताया कि स्कूल के खिलाफ छात्राओं के परिजनों ने शिकायत दर्ज कराई है। हम मामले की जांच कर रहे हैं। दूसरी तरफ स्कूल की प्रिंसिपल अमिता राठौर ने सभी आरोपों को सिरे से नकार दिया है। और छात्राओं के साथ किसी भी तरह का अभद्र व्यवहार होने से इंकार किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 उत्तराखंड: अनमोल भित्ति चित्रकला विलुप्ति के कगार पर
2 बाघों की तादाद में उत्तराखंड ने मारी बाजी, 361 हुई संख्या
3 मरीजों के बोझ के बीच अस्तित्व को बचाने की लड़ाई लड़ रहा है दून अस्पताल