scorecardresearch

अंकिता भंडारी मर्डर केस: बीजेपी नेता के बेटे के रिजॉर्ट पर आधी रात को चला बुलडोजर, सीएम धामी के आदेश पर हुई कार्रवाई

अंकिता भंडारी बीजेपी नेता के बेटे के वनतारा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के पद पर काम कर रही थी और 19 सितंबर से लापता थी।

अंकिता भंडारी मर्डर केस: बीजेपी नेता के बेटे के रिजॉर्ट पर आधी रात को चला बुलडोजर, सीएम धामी के आदेश पर हुई कार्रवाई
बीजेपी नेता के बेटे के रिजॉर्ट पर चला बुलडोजर (फोटो सोर्स: @Ani)

उत्तराखंड की अंकिता भंडारी हत्याकांड में आरोपी बीजेपी नेता के बेटे के रिजॉर्ट पर प्रशासन का बुलडोजर चला है। राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश के बाद प्रशासन ने यह कार्रवाई आधी रात को की है। बीजेपी नेता विनोद आर्या के बेटे पुलकित आर्या के वनतारा रिजॉर्ट को सीएम धामी के निर्देश के बाद आधी रात को धवस्त कर दिया गया। रिजॉर्ट को लेकर स्थानीय लोगों ने भी शिकायत की थी।

प्रशासन द्वारा की गई बुलडोजर कार्रवाई पर पुष्कर सिंह धामी के स्पेशल प्रिंसिपल सेक्रेटरी अभिनव कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद आरोपी के रिजॉर्ट को बुलडोजर से ध्वस्त किया गया है।

वहीं मुख्यमंत्री धामी ने शनिवार सुबह जानकारी देते हुए बताया कि अंकिता का शव बरामद कर लिया गया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “आज प्रातः काल बेटी अंकिता का पार्थिव शव बरामद कर लिया गया। इस हृदय विदारक घटना से मन अत्यंत व्यथित है। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने हेतु पुलिस उपमहानिरीक्षक पी. रेणुका देवी जी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन कर इस गंभीर मामले की गहराई से जांच के भी आदेश दे दिए हैं। आरोपियों के गैर कानूनी रूप से बने रिजॉर्ट पर बुल्डोजर द्वारा कार्रवाई भी कल देर रात की गई है। हमारा संकल्प है कि इस जघन्य अपराध के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।”

पुलिस ने रिजॉर्ट मालिक पुलकित आर्या, मैनेजर सौरभ भास्कर और अंकित उर्फ पुलकित गुप्ता को गिरफ्तार किया है। इन तीनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 201, 120-B के तहत मामला दर्ज किया गया है। हत्या का मुख्य आरोपी पुलकित आर्या है।

जब पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही थी तो वे टालमटोल कर रहे थे और भ्रमित करने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन पुलिस के सख्ती से पेश आने के बाद आरोपियों ने बताया कि उन्होंने अंकिता को पहले शराब पिलाई और फिर हत्या कर दी और इसके बाद उसका शव चीला नहर में फेंक दिया।

वहीं शुक्रवार को मुख्यमंत्री धामी ने अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर बयान देते कहा था, “सचिवालय में पुलिस महानिदेशक को ऋषिकेश घटना को लेकर सख़्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। जिस किसी ने ये जघन्य अपराध किया है उसे हर हाल में कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। पुलिस अपना कार्य कर रही है। पीड़िता को न्याय दिलाना सुनिश्चित किया जाएगा।”

19 वर्षीय अंकिता भंडारी पौड़ी गढ़वाल की रहने वाली थीं और गंगा भोगपुर स्थित वनतारा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के तौर पर काम करती थीं। 19 सितंबर को अंकिता लापता हो गई थीं। इसके बाद उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। बाद में लड़की के दोस्तों से हुई बातचीत में पुलिस को पता चला कि रिजॉर्ट के मालिक और किसी कर्मचारी ने लड़की को किसी विशेष गेस्ट को विशेष सेवा ऑफर करने की बात की गई। अंकिता ने मना किया और इसके बाद वह गायब हो गईं।

पढें उत्तराखंड (Uttarakhand News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-09-2022 at 08:30:25 am