ताज़ा खबर
 

टीचर ने रेप कर दसवीं की लड़की को बना दिया मां, पिता बोले- नवजात को करना है दूर

सोमवार को बच्चे को डीएनए टेस्ट के लिए सरकारी अस्पताल लाया गया था।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

टिहरी गढ़वाल के एक स्कूल टीचर द्वारा दसवीं की छात्रा के साथ रेप कर उसे गर्भवती करने का आरोप लगा था। पिछले हफ्ते 15 वर्षीय पीड़िता ने एक बच्ची को जन्म दिया लेकिन वह इस हादसे से इतनी दुखी है कि वह अपनी बच्ची को देखना तक नहीं चाहती और उसे खुद से दूर करना चाहती है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार पीड़िता के पिता ने कहा कि मेरी बेटी अभी खुद बहुत छोटी है। वह दसवीं की बोर्ड परीक्षा की तैयारी करना चाहती थी लेकिन अब उसे उसका मातृत्व धर्म निभाने के लिए मजबूर किया जा रहा है। हमारे मन में नवजात बच्ची के लिए कोई भावना नहीं है और हम बस उसे दूर करना चाहते हैं। हमने उसका कोई नाम भी नहीं रखा है।

सोमवार को बच्ची को डीएनए टेस्ट के लिए सरकारी अस्पताल लाया गया था। इससे पहले आई मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह मामला सितंबर में सामने आया था जब पीड़िता के परिजन देहरादून के एक अस्पताल में पीड़िता को इलाज के लिए लाए थे। पीड़िता ने अपने परिजनों को बीमार होने की बात कही थी और इलाज में पता चला कि वह सात महीने की गर्भवती थी। इस मामले के सामने आने के बाद पीड़िता ने इतिहास के टीचर प्रवेश कुमार पर रेप का आरोप लगाया था। पीड़िता ने बताया था कि आरोपी ने उसे और उसके परिवार को जान से मारने की धमकी देकर कई बार उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए।

57 वर्षीय आरोपी को पुलिस ने पीड़िता के साथ रेप करने के मामले में गिरफ्तार किया और वह 27 सितंबर से जेल में बंद है। इस मामले में पुलिस अधिकारियों का कहना है कि नवजात बच्ची के डीएनए टेस्ट से आरोपी के खिलाफ सख्त केस बनाने में मदद मिलेगी। केम्पटी पुलिस थाने के एसओ मनोज नेगी ने बताया डीएनए टेस्ट की रिपोर्ट आने में तीन महीने लगेंगे जिसके बाद हमें इस केस में ज्यादा मदद मिलेगी।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App