scorecardresearch

Uttarakhand Hooch Tragedy: पंचायत चुनाव से पहले उम्‍मीदवार ने बांटी शराब, छह लोगों की मौत

6 People Died from Poisonous Liqueur: उत्तराखंड में पंचायत चुनाव से पहले प्रधान पद के उम्मीदवार ने शुक्रवार को शराब बांट दी जिसे पीने से 3 दिनों में 6 लोगों की मौत हो गई।

Uttarakhand Hooch Tragedy: पंचायत चुनाव से पहले उम्‍मीदवार ने बांटी शराब, छह लोगों की मौत
Uttarakhand News: तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए (Photo- File)

Uttarakhand Hooch Case: उत्तराखंड में पंचायत चुनाव होने वाले हैं। चुनाव से ठीक पहले ही वहां जहरीली शराब का कहर देखने को मिला है। पंचायत चुनाव के एक उम्मीदवार ने वोट के लालच में लोगों को शराब बांटी जिसको पीने से 6 लोगों की मौत हो गई है। शुक्रवार को हरिद्वार जिले में पंचायत चुनाव के उम्मीदवार ने लोगों को शराब बांटी थी थी जिसे पीने के बाद लोगों की तबीयत खराब हुई और तीन दिनों के भीतर 6 लोगों की मौत हो गई है। उत्तराखंड पुलिस ने बताया कि फूलगढ़ गांव के प्रधान प्रत्याशी बबली ने गांव में शराब बांटी।

रविवार को उनके पति को उत्तराखंड की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और उन पर हत्या का मामला भी दर्ज कर लिया है। फिलहाल उत्तराखंड पुलिस प्रधान पद की उम्मीदवार बबली और उसके भाई नरेश की तलाश कर रही है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मीडिया से बातचीत में बताया, शराब पीने की वजह से अब तक कम से कम 6 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि स्थानीय लोगों का कहना है कि मरने वालों की संख्या 8 है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि उनमें से दो की मौत अन्य वजहों से हुई है। इस मामले में लापरवाही के आरोप में 4 पुलिस कर्मियों और 9 आबकारी विभाग के अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है।

6 मौतों में 4 फूलगढ़ गांव से और 2 शिवगढ़ गांव से

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक,“जहरीली शराब की वजह से इलाके में 6 मौतें हुई हैं। इसमें से एक व्यक्ति की मौत शुक्रवार को, चार लोगों की मौत शनिवार को और एक अन्य की मौत रविवार को मौत हुई। संबंधित गांवों में दो और मौतें हुई हैं, लेकिन इन दोनों मौतों की अधिकारियों ने पुष्टि करने से इनकार कर दिया। अधिकारियों ने बताया एक व्यक्ति की मौत कई दिन पहले मौत हो गई थी और दूसरा उस लड़ाई में शामिल था जिसके लिए हत्या की प्राथमिकी पहले ही दर्ज की जा चुकी है। हम मौत के कारणों की पुष्टि के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। इन छह मौतों में से चार फूलगढ़ गांव के हैं और दो शिवगढ़ गांव के हैं।”

प्रधान पद की उम्मीदवार के पति पर 302 का मामला दर्ज

हरिद्वार पुलिस की ओर से जारी बयान में बताया गया,“हमने एक विजेंद्र कुमार को गिरफ्तार किया है जो प्रधान पद की उम्मीदवार बबली के पति हैं। उन्होंने विजेंद्र के घर से 35 लीटर अवैध कच्ची शराब जब्त की है। जांच में पाया गया कि मृतकों ने अपने घर पर शराब पी थी। आगामी पंचायत चुनाव के मद्देनजर शराब बांटी गई थी। नामांकन के अंतिम दिन प्रत्याशी ने शराब बांटी। प्रधान उम्मीदवार के पति पर आईपीसी की धारा 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज किया है। साथ ही चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। निलंबित किए गए लोगों में पथरी एसओ रवींद्र कुमार और 3 कांस्टेबल शामिल हैं।”

CM पुष्कर सिंह धामी ने कहा दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि मामले में दोषियो के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और आबकारी विभाग को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों। आबकारी आयुक्त हरिचंद्र सेमवाल ने नौ आबकारी अधिकारियों को निलंबित करने का आदेश जारी किया है।आबकारी आयुक्त द्वारा जारी आदेश में कहा गया है। “अतिरिक्त आबकारी आयुक्त की एक प्रारंभिक रिपोर्ट में पुष्टि की गई है कि मृतकों ने शराब पी थी। रिपोर्ट में (आबकारी) कर्मचारियों की ओर से गंभीर लापरवाही पाई गई… इसलिए, नौ अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है और उन्हें देहरादून कार्यालय से अटैच कर दिया गया है।” हरिद्वार में 26 सितंबर से पंचायत चुनाव होने हैं। हरिद्वार राज्य का एकमात्र जिला है जहां अन्य जिलों के साथ त्रिस्तरीय पंचायतों के चुनाव नहीं होते हैं। उत्तराखंड राज्य के गठन के बाद से ही वहां ये लागू है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 12-09-2022 at 08:02:18 am