ताज़ा खबर
 

उत्तराखंड: जबरदस्ती कर रहे युवक का छात्रा ने किया विरोध तो जिंदा जलाया, झुलसी युवती का दिल्ली में इलाज जारी

एक युवक ने जबरदस्ती का विरोध करने पर एक छात्रा को आग के हवाले कर दिया। इस हादसे में 70 फीसदी तक जल चुकी छात्रा का इलाज दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में चल रहा है।

Author December 20, 2018 11:50 AM
पीड़िता से मिलने पहुंचे सीएम त्रिवेंद्र, फोटो सोर्स- जनसत्ता ऑनलाइन

देश को झकझोर देने वाले निर्भया कांड की छटी बरसी के दिन एक बार फिर देश शर्मसार हुआ। इस बार शिकार बनी उत्तराखंड की एक बेटी। जहां एक युवक ने जबरदस्ती का विरोध करने पर एक छात्रा को आग के हवाले कर दिया। इस हादसे में 70 फीसदी तक जल चुकी छात्रा का इलाज दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में चल रहा है। एक तरफ जहां आरोपी पुलिस गिरफ्त में है तो वहीं दूसरी ओर जनता में भारी गुस्सा है।

क्या है मामला
दरअसल पूरा मामला पौड़ी जिले के कफोलस्यूं पट्टी के एक गांव का है। जहां 18 वर्षीय लड़की बीएससी की प्रयोगात्मक परीक्षा देकर स्कूटी से घर लौट रही थी। रास्ते में गहड़ गांव के मनोज सिंह उर्फ बंटी उसका पीछा करने लगा। कुछ देर बाद एक सुनसान जगह में कच्चे रास्ते पर उसने लड़की को रोक लिया और जबरदस्ती करने की कोशिश करने लगा। जिस पर लड़की ने उसका विरोध करना शुरू कर दिया। छात्रा का विरोध से गुस्साए युवक ने छात्रा पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी और वहां से फरार हो गया। कुछ देर बाद जब वहां से गुजर रहे एक ग्रामीण ने जली हुई छात्रा को देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। जानकारी मिलती ही मौके पर पहुंची पुलिस ने 108 एंबुलेंस की मदद से छात्रा को जिला चिकित्सालय पौड़ी भेजा। वहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद छात्रा को मेडिकल कॉलेज श्रीनगर रेफर किया गया। फिलहाल झुलती छात्रा दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में भर्ती है और वहीं उसका इलाज जारी है।

क्या बोले डॉक्टर
डॉ बीपी मौर्य और डॉ. पंकज कुमार शर्मा ने बताया कि छात्रा करीब 70 फीसदी झुलस गई है।

पुलिस ने शुरू की जांच
झुलसी छात्रा से जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने जांच शुरू की और आरोपी का पता चलने पर एसआई ओमप्रकाश के नेतृत्व में एक पुलिस टीम आरोपी की तलाश में गहड़ गांव भेज दी गई। जहां देर शाम पुलिस ने आरोपी को गिरफ्त में लिया। वहीं कोतवाल पौड़ी मनोज रतूड़ी और तहसीलदार सदर एचएम खंडूड़ी ने बताया कि मौके से स्कूटी और पेट्रोल की बोतल कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी गई है।

एसपी का बयान
इस पूरे मामले पर एसपी जगत राम जोशी ने कहा- वारदात की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया, वहीं आरोपी गहड़ गांव निवासी मनोज सिंह उर्फ बंटी को हिरासत में ले लिया गया है। कार्रवाई के लिए उसे राजस्व पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

 

एम्स ऋषिकेश पहुंचे सीएम
झुलसी छात्रा की हालत जानने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पहुंचे। जहां उन्होंने आगे के इलाज के लिए दिल्ली सफदरगंज जाने की बात पर हामी भर दी। इसके साथ ही सभी को निर्देश दिए की किसी भी तरह की लापरवाही या चूक बर्दाश्त नहीं की जाएगी। वहीं डॉक्टरों को भी पीड़िता पर लगातार निगरानी रखने की भी बात कही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App