ताज़ा खबर
 

उत्तराखंड में भाजपा के सात पूर्व विधायक बगावत के मूड में

भाजपा ने मार्च में कांग्रेस के 10 विधायक तोड़कर कांग्रेस को एक बड़े राजनीति संकट में डाल दिया था।

Uttarakhand, former BJP MLA, Uttarakhand BJP, Uttarakhand news, Uttarakhand latest newsभारतीय जनता पार्टी

उत्तराखंड में भाजपा के सात पूर्व विधायकों ने बागी रूप अख्तियार कर लिया है। इससे भाजपा में हड़कंप मच गया है। भाजपा के सात पूर्व विधायकों ने देहरादून के एक होटल में बैठक कर एक स्वर में कहा कांग्रेस से आए ठेकेदारों के नेताओं और षड्यंत्रकारियों को यदि उनके स्थान पर टिकट दिया गया तो वे नया विकल्प तलाशने को स्वतंत्र होंगे। इससे भाजपा के सामने राजनीति संकट खड़ा हो गया है। भाजपा ने पूर्व विधायकों की इस बैठक को अनुशासनहीनता बताया है। भाजपा ने मार्च में जहां कांग्रेस के 10 विधायक तोड़कर कांग्रेस को एक बड़े राजनीति संकट में डाल दिया था। वहीं अब भाजपा में पूर्व विधायकों की बागवत के बाद वह खुद राजनीति संकट में फंस गई है। बताया जाता है कि मुख्यमंत्री हरीश रावत इन सात पूर्व विधायकों के संपर्क में हैं। यदि भाजपा के ये पूर्व विधायक बगावत करते हैं तो कांग्रेस अगले विधानसभा चुनाव में भाजपा के इन्हें टिकट देकर भाजपा को परेशानी में डाल सकती है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय भट्ट ने भाजपा के पूर्व विधायकों की इस बैठक को अनुशासनहीनता बताया है। उन्होंने कहा कि इन पूर्व विधायकों को अलग बैठक करने की जगह पार्टी मंच पर अपनी बात कहनी चाहिए थी। भट्ट ने कहा की पार्टी में अनुशासनहीनता की जगह नहीं है। भाजपा के पूर्व विधायकों की बैठक के सवाल पर रूड़की के पूर्व भाजपा विधायक सुरेश चंद जैन ने कहा कि पार्टी में कांग्रेस छोड़कर आए नए लोगों का पार्टी में पूरी तरह से सम्मान हो। वे इसके पक्षधर हैं। लेकिन पार्टी के पुराने कर्मठ और अनुशासित कार्यकर्ताओं का अपमान बर्दाशत नहीं किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अगर हमारा हक मारकर यदि नए लोगों को ज्यादा वरीयता दी गई तो हम नए विकल्प तलाशने पर मजबूर होंगे। नरेंद्र नगर से पूर्व भाजपा विधायक ओमगोपाल रावत का कहना है कि कांग्रेस से आए नेता पार्टी में सहयोगी के रूप में तो ठीक है। लेकिन विधानसभा चुनाव में पार्टी उम्मीदवार को रूप में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। भाजपा नेताओं की इस बैठक में जैन और रावत के अलावा पौड़ी जिले के कर्णप्रयाग के पूर्व विधायक अनिल नौटियाल, चमोली जिले के नंदप्रयाग के पूर्व विधायक महेंद्र भट्ट, रुद्रप्रयाग जिले के केदारनाथ से पूर्व आशा नौटियाल, पौड़ी जिले के कोटलार के पूर्व विधायक शैलेंद्र सिंह रावत, देहरादून जिले के विकासनगर के पूर्व विधायक कुलदीप कुमार और देहरादून जिले की रायपुर की विधानसभा सीट से भाजपा के टिकट के दावेदार राजकुमार पुरोहित मौजूद थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राजस्‍थान: निकाय चुनावों में कांग्रेस की जीत, भाजपा को मिली सिर्फ 10 सीट
2 दलित लड़की को आश्रम के नल का पानी पीने से रोका, विरोध पर पिता को घोंप दिया त्रिशूल
3 इलाहाबाद के स्‍कूल ने लगाया ‘जन-गण-मन’ पर बैन, दलील दी-‘भारत भाग्‍य विधाता’ कहना इस्‍लाम के खिलाफ
ये पढ़ा क्या?
X