ताज़ा खबर
 

‘पुराने पीएम पीछे बैठकर बजाते थे, लेकिन मोदी….’ पढ़ें क्या बोले सीएम योगी

योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि, ' बीते चार साल में देश और उत्तर प्रदेश ने अभूतपूर्व विकास देखा है। यह पीएम मोदी के कारण ही हो पाया। 2014 में मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से लगातार विकास हो रहा है'।

Author February 5, 2019 8:18 AM
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो सोर्स : Indian Express)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी को देश के अन्य प्रधानमंत्री से कहीं बढ़कर बताया है। राजधानी लखनऊ में बीजेपी कार्यलय में ‘भारत के मन की बात’ कार्यकम के दौरान संबोधित करते हुए कहा कि, ‘पीएम नरेंद्र मोदी से पहले के प्रधानमंत्री अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रमों में पीछे बैठकर ताली बजाते थे। जबकि आज ऐसा नहीं है’।

सोमवार को अपने संबोधन में उन्होंने कहा, ‘विदेश में होने वाले कार्यक्रमों में पहले के प्रधानमंत्री पीछे कहीं बैठकर तालियां बजाया करते थे। लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिकी राष्ट्रपति की उपस्थिति में कार्यक्रमों का उद्घाटन करते हैं और उद्घाटन भाषण देते हैं’। योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि, ‘देश और उत्तर प्रदेश ने अभूतपूर्व विकास देखा है। यह पीएम मोदी के कारण ही हो पाया। 2014 में मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से लगातार विकास हो रहा है’।

सीएम योगी ने कहा कि, ‘अकेले उत्तर प्रदेश में ही आजादी के बाद से 13 मेडिकल कॉलेज बनाए गए। जबकि बीते चार साल में ही राज्य को तीन मेडिकल कॉलेज मिल गए। उन्होंने आगे कहा कि, इसके अलावा प्रदेश में दो एम्स, दो कैंसर इंस्टीट्यूट के साथ लाखों जन कल्याणकारी योजनाएं लाई गईं। जिसमें आयुष्मान योजना सबसे अहम है। गरीबों को इससे बहुत फायदा हो रहा है’।

बता दें कि, बीते दिन (3 फरवरी) को योगी आदित्यनाथ की पश्चिम बंगाल में रैली होनी थी। लेकिन ममता सरकार ने हेलिकॉप्टर लैंडिंग की इजाजत नहीं दी थी। पश्चिम बंगाल सरकार से अनुमति न मिलने के कारण उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से फोन पर ही रैली को संबोधित किया। दक्षिण दिनाजपुर के बैलूरघाट में रविवार को योगी की रैली प्रस्तावित थी। हेलिकॉप्टर लैंडिंग की इजाजत नहीं मिलने को लेकर योगी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जमकर निशाने पर लिया। योगी की एक और रैली पश्चिम बंगाल में होनी है। 5 तारीख को रायगंज और दिनाजपुर जिले के बालूरघाट में रैली प्रस्तावित है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App