scorecardresearch

अग्निपथ स्कीम का विरोध करने पहुंचे किसान यूनियन के लोग तो डीएम सुहास एलवाई हाथ जोड़कर जमीन पर बैठ गए

सेना में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना के तहत नया नियम लाया गया है। विपक्षी दलों ने इस स्कीम का विरोध किया है।

noida dm| suhas ly| noida|
नोएडा डीएम सुहास एलवाई (फोटो सोर्स: @dmgbnagar)

देशभर के कई राज्यों में अग्निपथ स्कीम को लेकर युवा विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन ने भी युवाओं के समर्थन में अग्निपथ स्कीम के विरोध का आह्वान किया है। पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता अग्निपथ स्कीम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और जिला कलेक्ट्रेट पर धरना प्रदर्शन दे रहे हैं। राकेश टिकैत ने पहले ही ऐलान कर दिया था कि भारतीय किसान यूनियन युवाओं के साथ हैं।

इसी क्रम में भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता नोएडा में कलेक्ट्रेट स्थल पर धरना प्रदर्शन के लिए पहुंचे थे और अंदर घुसने का प्रयास कर रहे थे। लेकिन सीआईएसफ और पुलिस के जवानों ने उन्हें अंदर जाने से रोक लिया और किसी तरह से नीचे बैठने को कहा। इस दौरान वहां पर नोएडा के डीएम सुहास एलवाई भी खड़े थे। भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ता जवानों के कहने पर नीचे बैठ कर नारेबाजी करने लगे।

इसके बाद वहां पर खड़े नोएडा के डीएम सुहास एलवाई किसानों के साथ उनके सामने हाथ जोड़कर जमीन पर बैठ गए और किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं को समझाने और मनाने लगे। डीएम सुहास एलवाई ने किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं से बातचीत की और उन्हें समझाया। इसके बाद किसान यूनियन के कार्यकर्ता माने और वापस लौटे।

कुछ दिन पहले राकेश टिकैत ने पूर्व सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था, “42 साल की नौकरी के बाद भी सेवा विस्तार के लिए (जन्मतिथि विवाद) सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचने वाले केंद्रीय मंत्री वीके सिंह आज युवाओं की मात्र 4 साल की नौकरी की वकालत कर रहे हैं। यह देश के नौ-जवानों के साथ धोखा नहीं तो क्या है?”

वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी भी अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे हैं और उन्होंने यहां तक कह दिया है कि यह योजना सरकार को वापस लेना ही पड़ेगा। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर लिखा, “चीन की सेना हमारे हिंदुस्तान की धरती पर बैठी है। प्रधानमंत्री जी, सच्ची देशभक्ति सेना को मज़बूत करने में है लेकिन आप एक ‘नए धोखे’ से सेना को कमज़ोर कर रहे हैं। देश के भविष्य को बचाने के इस आंदोलन में, हम युवाओं के साथ हैं। मैं फिर कह रहा हूं, आपको ‘अग्निपथ’ वापस लेना ही होगा।”

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X