ताज़ा खबर
 

जब अखिलेश और डिंपल को पहचान न सकीं मायावती, नमस्‍ते का नहीं दिया था जवाब

वाकया 2002 का है। बीएसपी चीफ मायावती दिल्‍ली के लिए उडान भरने वाली फ्लाइट के बिजनेस क्‍लास में बैठी थीं। इसी दौरान अखिलेश यादव भी फ्लाइट में आ जाते हैं। अखिलेश के साथ डिंपल भी थीं।

सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव और डिंपल यादल (फोटो सोर्स : Indian Express)

समाजवादी पार्टी पर अखिलेश का वर्चस्व होने से पहले सपा और बहुजन समाज पार्टी की दुश्मनी जगजाहिर थी। हालांकि वक्त और जरूरतों ने दोनों की पार्टियों को एक कर दिया। बीते दिनों लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सपा और बसपा ने साथ मंच पर आकर एक होने का ऐलान कर दिया। मायावती ने जहां गेस्टहाउस कांड को भुलाकर देशहित में फैसला लेने की बात कही। वहीं, अखिलेश यादव ने भी भतीजा होने के नाते ‘झुककर’ भविष्य देखना ज्यादा बेहतर समझा।

अब मायावती भी अखिलेश की पहचान भतीजे के तौर पर स्वीकार चुकी हैं। लेकिन बीते दिनों एक ऐसा वाकया सामने आया, जब बसपा सुप्रीमो अखिलेश को पहचान भी नहीं पाई थीं। उस वक्त अखिलेश के साथ डिंपल यादल भी थीं। इस वाकये को सामने लाएं हैं, मायावती के सुरक्षा अधिकारी रहे पदम सिंह।

वाकया 2002 का है। बीएसपी चीफ मायावती दिल्‍ली के लिए उडान भरने वाली फ्लाइट के बिजनेस क्‍लास में बैठी थीं। इसी दौरान अखिलेश यादव भी फ्लाइट में आ जाते हैं। यह वह समय था, जब अखिलेश पहली बार सांसद बने थे। अखिलेश के साथ डिंपल यादव भी थीं। मायावती को सामने देख अखिलेश ने मायावती को नमस्ते किया। हालांकि मायावती ने कोई जवाब भी नहीं दिया। क्योंकि वह उन्हें पहचानती ही नहीं थीं।

पदम सिंह ने बताया कि, ‘बहन जी ने दिल्‍ली में उन दोनों (अखिलेश और डिंपल) के बारे में जानकारी ली। मुझे गेस्टहाउस कांड की याद थी इसलिए मैंने यूं ही कह दिया कि वे मुलायम सिंह जी के बेटे अखिलेश और बहू डिंपल यादव थे। इतना सुनते ही वह गुस्सा हो गईं। उन्होंने मुझे डांटते हुए कहा, “तुमने मुझे बताया क्यों नहीं? तुम्‍हें मुझे धीमे से बता देते। उनके (मुलायम सिंह) बेटे-बहू ने मुझे नमस्‍ते किया और मुझे भी जवाब देना चाहिए था। मेरे बारे में अब वह लड़का क्‍या सोच रहा होगा? उसकी पत्‍नी क्‍या सोच रही होगी? यह सब अच्छा नहीं है।’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App