ताज़ा खबर
 

योगी के मंत्री बोले- बच्चों को स्कूल नहीं भेजा तो पांच दिन तक थाने में बैठाऊंगा

राजभर ने कहा, ‘‘भगवान राम ने समुद्र को तीन दिन मनाया था, जब वह नहीं माना तो भगवान को हथियार उठाना पड़ा और समुद्र त्राहिमाम-त्राहिमाम करने लगा। उसी तरह जिस भी गरीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, यह सोच लेना, छह महीने के बाद थाने में पहुंचा दूंगा।
भारतीय समाज पार्टी (भासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्य के पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर (Facebook Photo)

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री और भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कहा है कि वह अपने बच्चों को स्कूल ना भेजने वाले अभिभावकों को पांच दिन तक थाने में भूखा-प्यासा बैठाएंगे। यह बयान सरकार के लिये असहज स्थिति पैदा कर सकती है। प्रदेश के दिव्यांग एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री राजभर ने बलिया जिले के रसड़ा कस्बे के गांधी मैदान में आयोजित पार्टी के एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘मैं अपने मन का कानून बनाने वाला हूं। जिस गरीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, उसके मां-बाप को पांच दिन थाने में बैठाऊंगा। ना पानी पीने दूंगा और ना ही खाना खाने दूंगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप लोगों ने (बच्चों को) स्कूल नहीं भेजा तो आपको उठवाकर थाने ले जाया जाएगा….इस नाते कह रहा हूं कि देखिए अभी तक आपका नेता, आपका बेटा, आपका भाई आपको समझा रहा था। आपने अगर मेरी बात नहीं मानी, तो छह महीने और मनाऊंगा।’’

राजभर ने कहा, ‘‘भगवान राम ने समुद्र को तीन दिन मनाया था, जब वह नहीं माना तो भगवान को हथियार उठाना पड़ा और समुद्र त्राहिमाम-त्राहिमाम करने लगा। उसी तरह जिस भी गरीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, यह सोच लेना, छह महीने के बाद थाने में पहुंचा दूंगा, चाहे भले ही मुझे फांसी क्यों ना हो जाए।’’ उन्होंने इस मौके पर मौजूद भीड़ का हाथ उठवाकर पूछा, ‘‘कोई गलत काम तो नहीं है। कितने लोग इसके समर्थन में हैं।’’ इस पर अनेक महिलाओं ने हाथ उठाकर सहमति जतायी।

गौरतलब है कि राजभर पहले भी अपने बयानों के लिए सुर्खियों में रहे हैं। कुछ दिनों पहले ही राज्य के पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने एक रैली में खुद को गब्‍बर सिंह बताया था। रैली में उन्‍होंने कहा था, ”गब्‍बर सिंह बोलता है, हमारे इलाके में 50-50 कोस दूर पर जब कोई बच्‍चा रोता है तो मां कहती है कि चुप हो जा, नहीं गब्‍बर सिंह आ जाएगा। बता देना, दूसरा गब्‍बर, ओम प्रकाश राजभर सोनभद्र में पैदा हो चुका है। अब वो लड़ेगा। किसी गरीब, कमजोर, लाचार को, अगर वह अपने हक के लिए लड़ रहा है, उसके खिलाफ अगर कोई आवाज करेगा तो ओम प्रकाश राजभर उसके खिलाफ आंदोलन करेगा, जो गरीब को सताएगा।” एक और रैली में राजभर ने कहा था, ”जो झंडे का विरोध करेगा, इसका रंग कैसा है, बताओ। पीला। ओम प्रकाश राजभर शंकर भगवान का पुजारी है। जो पीले झंडे का विरोध करेगा उसे राजभर श्राप देगा कि उसे पीलिया हो जाएगा और ठीक भी नहीं होगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.