ताज़ा खबर
 

VIDEO: बनारस में शिलान्यास में पंडित से बोले बीजेपी नेता- दो मिनट में कराइए, आचार संहिता…

रविवार (10 मार्च, 2019) को सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स पर यह वीडियो खासा वायरल हो रहा है। क्लिप में दो पंडित पूजा करने के लिए बैठे नजर आ रहे थे, जबकि उनके आस-पास कई बीजेपी नेता और कार्यकर्ता खड़े थे। चंद सेकेंड बाद वहां यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा पहुंचे थे।

Elections 2019, Loksabha Elections 2019, BJP, UP Deputy CM, Dinesh Sharma, UP BJP Chief, Mahendra Nath Pandey, Hurry, Model Code of Conduct, Varanasi, Benaras, State News, UP News, Hindi Newsबनारस में एक कॉलेज के शिलान्यास के दौरान पूजा के वक्त डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा समेत इन बीजेपी नेताओं ने हड़बड़ी की थी। (फोटोः फेसबुक/drmnpandeymp)

लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लागू होने से ऐन पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता बेहद जल्दबाजी में नजर आए। उत्तर प्रदेश के बनारस में एक कॉलेज के शिलान्यास के कार्यक्रम में उन लोगों ने ‘लघु पूजा’ कराई और पंडित को ठीक से मंत्रोच्चार भी नहीं करने दिया। बोले कि यह काम दो मिनट में कराइए। आचार संहिता लागू होने वाली है और उससे पहले हमें किसी बैठक में जाना है।

दरअसल, वाराणसी की शिवपुर और चंदौली की सकलडीहा विधानसभा में राजकीय इंटर कॉलेज के शिलान्यास के लिए उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और यूपी बीजेपी अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे बाकी पार्टी नेताओं और समर्थकों के साथ पहुंचे थे। घटना के दौरान वे काफी जल्दबाजी में थे, जिसका सबूत मामले से जुड़े एक वीडियो में भी देखने को मिला है।

रविवार (10 मार्च, 2019) को सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स पर यह वीडियो खासा वायरल होने लगा। क्लिप में दो पंडित पूजा करने के लिए बैठे नजर आ रहे थे, जबकि उनके आस-पास कई बीजेपी नेता और कार्यकर्ता खड़े थे। कुछ ही देर बाद वहां डिप्टी सीएम के साथ यूपी बीजेपी चीफ पहुंचे।

पांडे बोले, “आप घी डालिए दो मिनट में। चलिए … हमारी प्रार्थना है कि आप शुरू का मंत्र बोलिए। हमको बैठकें है, लखनऊ में तुरंत। चुनाव आयोग की आचार संहिता लागू हो जाएगी। स्वस्तिवाचन द्वारा, घी डालकर बस खत्म। कृपया करें। ” पीछे से डिप्टी सीएम ने कहा- बहुत ही कम पूजा करेंगे गा। लंबी दूरी की नहीं। देखें घटना का पूरा वीडियो-

बता दें कि लोकसभा चुनाव के लिए रविवार को चुनाव आयोग बड़ा ऐलान करेगा। शाम पांच बजे दिल्ली के विज्ञान भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस में ईसी के अधिकारी चुनाव कार्यक्रम का ऐलान करेंगे, जबकि इसी के साथ चुनावी आचार संहिता लागू हो जाएगी। चूंकि इसके लागू होने के बाद कई चीजों पर आंशिक रूप से रोक लग जाती है, जबकि नेताओं को भी हर पल विभिन्न चीजों के उल्लंघन को लेकर खौफ सताता रहता है।

Next Stories
1 VIDEO: मीडिया पर बरसीं योगी की मंत्री- दिमाग खराब है? किसने अंदर बुलाया… बंद करिए
2 अयोध्या विवादः राम मंदिर पर श्रीश्री रविशंकर ने 15 महीने पहले दिया था ये बयान, अब बने मध्यस्थ
3 अयोध्या विवाद में मध्यस्थ बने जस्टिस कलीफुल्ला के नाम हैं कई बड़े फैसले, कश्मीर में किया था यह काम
ये पढ़ा क्या?
X