ताज़ा खबर
 

छात्रों से बोले पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के वीसी- मेरे पास रोते हुए मत आना, झगड़ा हो तो मर्डर करके आना, हम देख लेंगे

साथ ही कुलपति ने कहा कि, 'युवा छात्र वही होता है जो चट्टानों में पैर मारता है तो पानी निकलता है। छात्र जो अपने जीवन में संकल्प लेता है और उसे पूरा करता है।

Author December 31, 2018 7:13 AM
पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर राजाराम यादव (फोटो सोर्स : ANI)

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में स्थित वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर ने विवादित बयान दिया है। कुलपति राजाराम यादव ने एक सभा के दौरान छात्रों को संबोधित करते हुए कहा है कि, अगर उनका किसी से झगड़ा हो जाए तो रोते हुए मेरे पास मत आना। जरूरत पड़े तो उसका मर्डर कर देना। कुलपति द्वारा छात्रों को दी गई इस विवादित सीख पर बवाल खड़ा हो गया है।

कुलपति राजाराम यादव गाजीपुर के एक कॉलेज के समारोह में शिरकत करने पहुंचे थे। यहां संबोधन के दौरान कुलपति ने कहा कि, ‘युवा छात्र वही होता है जो चट्टानों में पैर मारता है तो पानी निकलता है। छात्र जो अपने जीवन में संकल्प लेता है उसे पूरा करता है। उसी को पूर्वांचल यूनिवर्सिटी का छात्र कहते हैं’। इसके साथ ही कुलपति ने आगे कहा कि, ‘यदि आप पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के छात्र हैं तो मेरे पास कभी रोते हुए मत आना। यदि किसी से झगड़ा हो जाए, उसकी पिटाई करके आना, बस चले तो मर्डर करके आना। उसके बाद हम देख लेंगे’।

पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर राजाराम यादव द्वारा दिए गए गैर जिम्मेदाराना बयान ने थोड़ी ही देर में तूल पकड़ लिया। इस बयान के चलते कुलपति की हर तरफ आलोचना हो रही है। स्थानीय नेताओं ने कुलपति को हटाए जाने की मांग की है। उधर, कुलपति ने कहा है कि उनकी बात को गलत तरीके से समझा गया। उनका मकसद छात्रों का हौसला बढ़ाना था।

कुलपति के इस विवादित बयान पर कांग्रेस नेता शैलेंद्र सिंह ने कहा, कुलपति का पद बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। इस सम्मानित पद पर बैठने वाले किसी भी व्यक्ति को ऐसे बयान नहीं देने चाहिए। उन्होंने पूछा कि, ‘कुलपति छात्रों को इस बयान से कौन सा पाठ पढ़ाना चाह रहे थे’? वहीं, समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता मनोज राय ने कहा, ‘यह बहुत ही आपत्तिजनक बयान है। कुलपति को बेहतर शिक्षा के लिए छात्रों को प्रोत्साहित करना चाहिए। उनका यह बयान बहुत ही निराशाजनक है’।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X