ताज़ा खबर
 

चाईनीज सामान की खरीद के खिलाफ गईं मुस्लिम महिलाएं, मोदी से की बैन की अपील

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में मुस्लिम महिलाओं ने चाईनीज सामानों की खरीद के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की है।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में मुस्लिम महिलाओं ने चाईनीज सामानों की खरीद के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की है। मुस्लिम महिलाओं ने चीनी सामानों के बहिष्कार के लिए ‘राखी’ को अपना हथियार बनाया है। अपने हाथों से बनाई गई इस राखी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेज इन्होंने चीना उत्पादों पर प्रतिंबध लगाने की मांग की है। दरअसल यहां मुस्लिम महिला फाउंडेशन और विशाल भारत संस्थान की तरफ ‘मोदी राखी’ बनाने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में भारी तादाद में हिंदू और मुस्लिमों महिलाओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। इस दौरान महिलाओं ने सितारे, गोटे और टिक्की से सजाकर सैकड़ों पीएम मोदी की तस्वीर वाली राखियां बनाईं।  इन महिलाओं ने राखी पीएम मोदी को भेजी और संदेश दिया कि मुस्लिम बहने संकट के समय साथ खड़ी हैं।

कार्यक्रम में पातालपुरी मठ के पीठाधीश्वर महंत बालक दास मौजूद रहे। मुस्लिम महिला फाउंडेशन की राष्ट्रीय अध्यक्ष नाजनीन अंसारी ने बताया कि पीएम को राखी के साथ भेजे गए पत्र में चीनी सामान के बहिष्कार के अलावा बनारस की बदहाल स्थिति और बुनकरों का दर्द बयां किया गया है। उन्होंने कहा कि बनारस से चीनी राखी के बहिष्कार से बीजिंग के खिलाफ पूरे देश में माहौल बनेगा और चीन की आर्थिक नाकेबंदी करने में हम कामयाब होंगे। विशाल भारत संस्थान के अध्यक्ष डॉ.राजीव श्रीवास्तव ने कहा कि दुकानदारों को मुस्लिम बहनें राखी बांध चीनी माल ना बेचने की अपील करेंगी। उन्होंने उम्मीद जताई कि कोई भी भाई रक्षाबंधन पर अपने बहन की बात नहीं टालेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.