ताज़ा खबर
 

वाराणसी: स्‍कूल में छेड़ता था लड़का, परेशान होकर लड़की ने जहर खाकर दे दी जान

मृतका के पिता ने स्कूल के कक्षा 11वीं के छात्र पर बेटी से छेड़छाड़ व परेशान करने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार शाम जब श्रेया स्कूल से घर लौटी तो उसे उल्टी होने लगी, जिसके बाद उसे एक राजातालाब स्थित एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां श्रेया ही हालत बिगड़ने पर भदवर में एक निजी अस्पताल ले जाया गया और देर रात उसकी मौत हो गई।

गुस्साए परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर राजमार्ग को जाम कर दिया। जब मौके पर पुलिस पहुंची तो पुलिस की गाड़ी पर भी पथराव कर दिया। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्वाचन क्षेत्र, रोहनिया थाना क्षेत्र के पनियरा गांव में अपने ही स्कूल के छात्रों की छेड़खानी से तंग आकर 7वीं कक्षा की छात्रा ने जहर खाकर जान दे दी। मृतका के परिजनों ने स्कूल के ही 11वीं कक्षा के छात्र पर बेटी को आए दिन परेशान करने का आरोप लगाया है। पुलिस आरोपी छात्र की तलाश में जुट गई है। पुलिस के मुताबिक, रोहनिया थाना क्षेत्र के पनियरा ग्राम निवासी अरविंद पांडेय की 12 साल की बेटी श्रेया पांडेय रोहनिया थाना क्षेत्र के एक निजी स्कूल की कक्षा सात की छात्रा थी। बीती शुक्रवार (23 फरवरी, 2018) शाम स्कूल से लौटने के बाद उसने घर में जहर खा लिया। उसकी तबीयत बिड़गी देख परिजन उसे निजी अस्पताल ले गए, जहां देर रात इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

मृतका के पिता ने स्कूल के कक्षा 11वीं के छात्र पर बेटी से छेड़छाड़ व परेशान करने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार शाम जब श्रेया स्कूल से घर लौटी तो उसे उल्टी होने लगी, जिसके बाद उसे एक राजातालाब स्थित एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां श्रेया ही हालत बिगड़ने पर भदवर में एक निजी अस्पताल ले जाया गया और देर रात उसकी मौत हो गई। पिता का कहना है कि आरोपी छात्र की शिकायत विद्यालय प्रबंधन से की गई थी, लेकिन मामले को गंभीरता से नहीं लिया गया।

वहीं स्कूल के प्रबंधक रामबलि सिंह पटेल ने कहा, ‘छात्रा की ओर से हमें इस मामले में कभी कोई शिकायत नहीं मिली। यदि शिकायत मिलती तो जो भी इस मामले में संबंधित छात्र के खिलाफ कार्रवाई अवश्य की जाती। छात्रा के परिजन स्कूल प्रशासन पर बेबुनियाद आरोप क्यों लगा रहे हैं।’ सीओ सदर अंकिता सिंह ने शनिवार को बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। आरोपी छात्र की गिरफ्तारी के लिए एक टीम भेज दी गई है। उन्होंने बताया कि अभी तक मृतक छात्रा के परिजनों की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलते ही मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App