ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019 Schedule: आचार संहिता लगने से पहले योगी सरकार ने की पांच दर्जन से ज्यादा नियुक्तियां, जातिगत समीकरण का रखा ख्याल

Loksabha Election 2019: योगी सरकार ने देश में लोकसभा चुनाव के लिए आचार संहिता लागू होने के कुछ घंटों पहले ही उत्तर प्रदेश के बोर्ड एवं आयोग की नियुक्तियां कर डाली। इसमें उन्होंने हर जातियों का ख्याल रखा है। वहीं, कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को भी एक विभाग सौंपा गया है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले कर दिया बोर्ड एवं निगमों में अध्यक्ष, उपाध्य और सदस्यों की नियुक्ति। (फोटो सोर्स: PTI)

देश में लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने के कुछ घंटे पहले ही उत्तर प्रेदश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने राज्य सरकार के विभिन्न बोर्ड एवं आयोग के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों के नामों को मंजूरी दे दी है। इसमें योगी सरकार ने सभी जातियों को साधने की कोशिश की है। सवर्णों के अलावा पटेल, राजभर, प्रजापति और शाक्य जातियों को भी पद सौंपे गए हैं। बीजेपी ने अपने क्षेत्रीय सहयोगी दलों का भी ख्याल रखा है और उनके समर्थकों को पद-भार सौंपा है। यही नहीं योगी आदित्यनाथ ने कॉमिडियन राजू श्रीवास्तव को फिल्म विकास निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया है।

जिन लोगों को बोर्ड और निगम में जगह दी गई है, उन प्रमुख विभागों की जानकारी नीचे क्रम से बताई गई है।

उत्तर प्रदेश पशुधन विकास परिषद
1. सुदामा राजभर, गाजीपुर
2. अजय प्रताप सिंह, कानपुर

उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम
1. महेश प्रजापति, प्रयागराज
2. ओम प्रकाश कटियार, फर्रूखाबाद

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड, प्रयागराज
1. डॉक्टर किशन वीर सिंह शाक्य, कासगंज
2. डॉक्टर अवध नरेश शर्मा, से.नि. शिक्षा निदेशक

उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग, प्रयागराज
1. डॉ. आरएन त्रिपाठी, बनारस हिंदू विश्व विद्यालय

हिंदुस्तानी अकादमी, प्रयागराज
सामान्य परिषद
1. एमपी सिंह, सुल्तानपुर
2. शैलतन्या श्रीवास्तव, प्रयागराज
3. दीप सौरभ, बिजनौर
4. वकुल रस्तोगी, मेरठ
5. नागरदास मिश्रा, बस्ती
6. ह्रदय नारायण मिश्र, बस्ती
7. रामजी मिश्र, प्रयागराज
8. राजबहादुर सिंह, आगरा
9. अनिरूद्ध गोयल, मेरठ
10 किरन श्रीवास्ताव, लखनऊ

पूर्वांचल विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष एवं सदस्य

1. नरेंद्र सिंह, आजमगढ़ —– उपाध्यक्ष
2. दया शंकर मिश्र ‘दयालु’ वाराणसी – उपाध्यक्ष
3. जय प्रकाश निषाद, गोरखपुर – सदस्य
4. विजय शंकर यादव, गोरखपुर — सदस्य
5. परदेसी रविदास, महाराजगंज – सदस्य
6. अरविंद बौद्ध (पटेल), बस्ती – सदस्य
7. जितेंद्र पांडेय, गाजीपुर – सदस्य
8.. विजय विक्रम सिंह, अमेठी – सदस्य
9. राजकुमार शाही, देवरिया – सदस्य
10. ओम प्रकाश गोयल, सोनभद्र – सदस्य
11. अरमपाल मौर्य, प्रतापगढ़ – सदस्य
12. केपी श्रीवास्तव, प्रतापगढ़ – सदस्य
13. अशोक चौधरी, प्रयागराज – सदस्य

उत्तर प्रदेश मत्स्य विकास निगम
1. रमाकांत निषाद, गोरखपुर – अध्यक्ष

उत्तर प्रदेश लघु उद्योग निगम लि. कानपुर
1. अरविंद राजभर, बलिया – अध्यक्ष
2. राकेश गर्ग, आगरा – उपाध्यक्ष

यूपी पशुधन विकास परिषद एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के पदाधिकारी

कार्यसमिति
1. विजय त्रिपाठी, लखनऊ
2. डॉ. आभा द्विवेदी, कानपुर

उत्तर प्रदेश पशुधन विकास परिषद
1. सुदामा राजभर, गाजीपुर
2. अजय प्रताप सिंह, कानपुर

उत्तर प्रदेश राज्य एकीकरण परिषद
1. रमाकांत पटेल, मिर्जापुर
2. सुनील अर्कवंशी, हरदोई
3. राधिका पटेल, सुल्तानपुर

उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड
1. जयेंद्र प्रताप सिंह राठौर, शाहजहांपुर अध्यक्ष
2. राजेंद्र प्रसाद पाल, प्रतापगढ़ – सदस्य
3. भिखारी प्रजापति, गोरखपुर – सदस्य

राज्य सफाई कर्मचारी आयोग
1. सुरेंद्र नाथ वाल्मीकि, शाहजहांपुर – अध्यक्ष
2. मुन्ना सिंह धानुक, लखनऊ – उपाध्यक्ष
3. लाल बाबू बाल्मीकि, कुशीनगर – उपाध्यक्ष
4. कमल वाल्मीकि, आगरा – सदस्य
5. मनोज वाल्मीकि, हापुड़ – सदस्य
6. छाया देवी, प्रयागराज -सदस्य
7. शायमलाल वाल्मीकि, लखनऊ — सदस्य

उत्तर प्रदेश राज्य युवा कल्याण परिषद
1. डॉक्टर विभ्राट चंद्र कौशिक, कुशीनगर

उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद
1. राम लखन पटेल, प्रयागराज
2. अश्विनी त्रिपाठी, गोरखपुर

उत्तर प्रदेश बीज विकास निगम
1. राणा अजीत प्रताप सिंह, सुल्तानपुर – अध्यक्ष
2. राजेश्वर सिंह, कुशीनगर – उपाध्यक्ष

लाल बहादुर शास्त्री गन्ना किसान संस्थान
1. नवाब सिंह नागर, गौतमबुद्धनगर अध्यक्ष
2. नीरज शाही, देवरिया उपाध्यक्ष

फिल्म विकास परिषद
1. राजू श्रीवास्तव, कानपुर – अध्यक्ष
2. तरुण राठी, अमरोहा – उपाध्यक्ष

Next Stories
1 VIDEO: बनारस में शिलान्यास में पंडित से बोले बीजेपी नेता- दो मिनट में कराइए, आचार संहिता…
2 VIDEO: मीडिया पर बरसीं योगी की मंत्री- दिमाग खराब है? किसने अंदर बुलाया… बंद करिए
3 अयोध्या विवादः राम मंदिर पर श्रीश्री रविशंकर ने 15 महीने पहले दिया था ये बयान, अब बने मध्यस्थ
ये पढ़ा क्या?
X