लट्ठमार होली में जाएंगे आदित्य नाथ, मुस्लिम नेता बोले- ईद भी मनाइए - uttar pradesh cm yogi adityanath to attend lathmar holi of mathura barsana muslim leaders opposes decision says cm should also celebrate eid - Jansatta
ताज़ा खबर
 

लट्ठमार होली में जाएंगे आदित्य नाथ, मुस्लिम नेता बोले- ईद भी मनाइए

हाजी जमीलुद्दीन ने कहा कि सीएम को हर धर्म के बड़े पर्वों को मनाना चाहिए जैसे कि ईद, क्रिसमस और गुरुपर्व या फिर सेकुलर सरकार के मुखिया के तौर पर काम करना चाहिए और कोई त्योहार नहीं मनाना चाहिए।

अपने समर्थकों के साथ होली मनाते योगी आदित्य नाथ (फाइल फोटो-यूट्यूब)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस साल भगवान कृष्ण की भूमि मथुरा में होली मनाएंगे। सीएम विश्व प्रसिद्ध लट्ठमार होली में शिरकत करेंगे। पर उनके इस फैसले पर सियासी विवाद शुरू हो गया है। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के कुछ मुस्लिम नेता ने कहा है कि सीएम सिर्फ हिन्दुओं के त्योहार में शामिल होकर उत्तर प्रदेश की संस्कृति को नुकसान पहुंचा रहे हैं। इन नेताओं का कहना है कि सीएम को या तो सभी धर्मों के पर्व को मनाना चाहिए या फिर उन्हें कोई भी त्योहार में शामिल नहीं होना चाहिए। इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक समाजवादी पार्टी के नेता रइसुद्दीन ने कहा कि सीएम का हिंदू त्योहारों की ओर झुकाव से दुनिया भर में गलत संदेश जा रहा है, लोग ऐसा कह रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में एक साम्प्रदायिक सरकार का राज है। उन्होंने कहा कि राज्य की यह छवि पूर्व सीएम अखिलेश यादव के राज में शुरू की गई विकास योजनाओं को प्रभावित कर सकती है। कांग्रेस के नेता हाजी जमीलुद्दीन ने कहा कि सबका साथ सबका विकास के नारे का कोई मतलब नहीं रह जाता है यदि सीएम सिर्फ एक समुदाय के उत्सव को मनाते हैं और दूसरे धर्म के त्योहारों को नकार देते हैं।

हाजी जमीलुद्दीन ने कहा कि सीएम को हर धर्म के बड़े पर्वों को मनाना चाहिए जैसे कि ईद, क्रिसमस और गुरुपर्व या फिर सेकुलर सरकार के मुखिया के तौर पर काम करना चाहिए और कोई त्योहार नहीं मनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले अयोध्या में दिवाली और अब मथुरा में होली मनाने की घोषणा के बाद सीएम ने स्पष्ट संदेश दे दिया है कि उन्हें सिर्फ हिन्दुओं के महोत्सव की चिंता है, जिससे की उनका ताल्लुक है, बाकी समुदायों के लोगों के लिए उनके पास उतनी कद्र नहीं है।

हालांकि हिन्दुस्तानी बिरादरी के उपाध्यक्ष विशाल शर्मा सीएम के इस फैसले का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि होली और दिवाली ऐसे त्योहार हैं जिनकी जड़ें उत्तर प्रदेश में हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में मुस्लिम समुदाय के लोग भी बड़े पैमाने पर इस त्योहार को मनाते हैं। अल्पसंख्यकों के कुछ ही हिस्से में जहां कट्टरता भर गई है वे लोग इस त्योहार को नहीं मनाते हैं। उन्होंने कहा कि कोशिश ये होनी चाहिए इनके मन से कट्टर भावना को दूर किया जाए। मथुरा प्रशासन ने सीएम द्वारा लट्ठमार होली में शिरकत करने की खबरों की पुष्टि की है और इसकी तैयारियों में जुटा है। रिपोर्ट के मुताबिक स्थानीय सांसद हेमामालिनी समेत कई कलाकार भी इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App