ताज़ा खबर
 

RSS-BJP की बैठक में बोले योगी आदित्‍य नाथ- गउ माता की जय बोलने भर से नहीं बचेंगी गोमाता

योगी ने कहा, ''गउ माता की जय तो हम बोलें लेकिन उनके समर्थन के लिए ईमानदारी से अपने स्‍तर पर प्रयास भी करें, तभी गोमाता बच पाएंगी।''

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्य नाथ।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍य नाथ अपने संसदीय क्षेत्र गोरखपुर के दो दिवसीय दौरे पर हैं। दूसरे दिन (30 अप्रैल) को उन्‍होंने आरएसएस-बीजेपी समन्‍वय बैठक को संबोधित किया। अपने संबोधन में योगी ने गो-संरक्षण का मुद्दा उठाया। उन्‍होंने कहा कि ‘गउ माता की जय बोलने से गउ माता का संरक्षण नहीं हो पाएगा। गउ माता की जय तो हम बोलें लेकिन उनके समर्थन के लिए ईमानदारी से अपने स्‍तर पर प्रयास भी करें, तभी गोमाता बच पाएंगी।’ योगी ने महापुरुषों को जातिगत आधार पर बांटने पर भी वार किया। उन्‍होंने कहा, ”हमने महापुरुषों को जाति के आधार पर बांट दिया है, इतना घोर पाप किया है। हर जाति का महापुरुष खड़ा हो गया है।” योगी आदित्यनाथ ने प्राकृतिक संसाधनों की बरबादी और गंदगी को पूर्वांचल में हर साल सैकड़ों बच्चों की जान लेने वाली बीमारी इंसेफेलाइटिस का मुख्य कारण करार देते हुए कहा कि हालात में सुधार के लिये ‘स्वच्छ भारत’ अभियान के तहत आगे बढ़ना होगा। उन्‍होंने सलेमपुर में आयोजित एक अन्‍य कार्यक्रम में कहा, ”इंसेफेलाइटिस का मौसम आने वाला है। हर साल इस बीमारी से सैकड़ों मौतें होती हैं। इसका कारण यह है कि हमने पूर्वांचल में साफ-सफाई पर ध्यान नहीं दिया। हम प्राकृतिक संसाधनों की दृष्टि से सम्पन्न हैं, लेकिन हमने उनके संरक्षण का प्रयास नहीं किया।”

उन्होंने कहा “हमने जितने भी जल के स्रोत थे, उन सबको गंदा कर दिया। उस पानी को पीने से बच्चा इंसेफलाइटिस से पीड़ित हो जाता है। हमें स्वच्छ भारत अभियान के तहत आगे बढ़ना होगा। गांव की नदियों और तालाबों को प्रदूषित ना होने दें। अपने गांव, कस्बे और वार्ड में स्वच्छता का अभियान शुरू करें। गंदगी को पूरी तरह रोकें।” मालूम हो कि पूर्वी उत्तर प्रदेश के गोरखपुर और देवरिया समेत कई जिलों में हर साल इंसेफेलाइटिस की वजह से सैकड़ों बच्चों की मौत हो जाती है। वैसे तो लगभग पूरे साल इस बीमारी का प्रकोप रहता है लेकिन बारिश के मौसम में यह विकराल रूप धारण कर लेता है।

हाल में सहारनपुर समेत कुछ स्थानों पर कथित भाजपा कार्यकर्ताओं की गुंडई को लेकर विपक्षियों के निशाने पर आये योगी ने कहा ‘‘अब जमीनों पर कोई कब्जा नहीं कर पाएगा, अगर किया तो कानून सख्त कार्रवाई करेगा। हम कोई समझौता नहीं करने वाले हैं।’’ उन्होंने चीनी मिलों का जिक्र करते हुए कहा ‘‘यहां की चीनी मिलों को हम कैसे शुरू करें, इसके लिये उच्चाधिकार प्राप्त समिति बनायी है। उसकी रिपोर्ट के आधार पर हम चीनी मिलों के पुनरुद्धार की नयी नीति लेकर आने वाले हैं। जो चीनी मिलें औने-पौने दाम पर बेची गयी हैं, हमने उनकी पूरी रिपोर्ट मांगी है। औने-पौने दाम पर मिलें बेचने वालों को हम बख्शेंगे नहीं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App