ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी ने खुद को गोली से उड़ाया, मौत

फर्रुखाबाद के पुलिस अधीक्षक वेद प्रकाश पांडे ने बताया कि दरोगा तारा बाबू(50 वर्ष) ने हुल्लापुर चौराहा शाहजहांपुर के पास सरकारी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली है परिजनों ने किसी पर भी कोई आरोप नहीं लगाए हैं। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Author Updated: October 3, 2018 9:49 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

जिले में केन्द्रीय मंत्री की सुरक्षा में तैनात दरोगा ने मंगलवार को अपनी सरकारी रिवाल्वर से खुद को गोली मार ली। घायल अवस्था में उसे डॉ. राम मनोहर लोहिया जिला चिकित्सालय ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। आवास विकास में ग्रामीण बैंक की एक शाखा का शुभारम्भ करने के लिये आये वित्त राज्य मंत्री के सुरक्षा दल में फर्रूखाबाद के फतेहगढ़ में पदस्‍थ दारोगा तारा बाबू तैनात थे। उनकी जिप्सी जनपद शाहजहाँपुर के हुल्लापुर चौराहे के निकट अयूब टायर की दुकान के सामने खड़ी थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पहले दरोगा जिप्सी के निकट ही अपने मोबाइल से किसी से वार्ता करते रहे। जिसके बाद वह दुकान के भीतर कुर्सी पर बैठ कर बातचीत करने लगे। इसी दौरान उन्होंने अचानक अपनी सर्विस रिवाल्वर निकाल कर खुद को तीन गोलियां मार लीं। दारोगा के खुद को गोली मारने की सूचना पर थानाध्यक्ष अल्लागंज, राजेपुर व अमृतपुर की पुलिस मौके पर पहुंचीे। उन्हें तत्काल लोहिया अस्पताल ले जाया गया। जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

फर्रुखाबाद के पुलिस अधीक्षक वेद प्रकाश पांडे ने बताया कि दरोगा तारा बाबू(50 वर्ष) ने हुल्लापुर चौराहा शाहजहांपुर के पास सरकारी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली है परिजनों ने किसी पर भी कोई आरोप नहीं लगाए हैं। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Lucknow Vivek Tiwari Murder Case: योगी सरकार ने उठाया बड़ा कदम, पुलिसकर्मियों को अब इसकी भी लेनी होगी ट्रेनिंग
2 केंद्रीय मंत्री का दावा- राहुल गांधी ने ‘हर-हर महादेव’ का नारा लगाने वाले कांग्रेसी को पार्टी से निकाला
3 राम मंदिर: हिंदू पक्षकारों से बात करने गए वसीम रिजवी, कहा- ओवैसी बिना मूंछ का रावण
ये पढ़ा क्या?
X