up news, meerut news, crime news, groom refuses to tie knot with blind groom - काला चश्मा पहनकर अंधा दूल्हा जब सात फेरे लेते मंडप से टकराया तो खुल गई उसकी पोल, दुल्हन ने किया शादी से इनकार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

काला चश्मा पहनकर अंधा दूल्हा जब सात फेरे लेते मंडप से टकराया तो खुल गई उसकी पोल, दुल्हन का शादी से इनकार

दूल्हन के परिजनों ने बताया कि बारात आने के बाद जयमाला के साथ-साथ अन्य रस्में भी निभाई गई, लेकिन दूल्हे ने अपना काला चश्मा नहीं उतारा।

प्रतीकात्मक तस्वीर

मेरठ के टीपी नगर में बुधवार को आई एक बारात में उस वक्त हंगामा मच गया जब दुल्हन पक्ष ने शादी से इनकार कर दिया। दुल्हन पक्ष का कहना था कि लड़का नेत्रहीन है और धोखे से बदल दिया गया है। मामले का खुलासा तब हुआ जब लड़के की आंखों से काला चश्मा हटाया गया। धोखे से शादी कराए जाने से नाराज वधू पक्ष ने बारात को बंधक बना लिया। इस बीच दोनों पक्षों में देर रात तक बातचीत चलती रही, लेकिन कोई नतीजा सामने नहीं आने के बाद पुलिस को बुलाना पड़ा। अंत में पुलिस के हस्तक्षेप के बाद वर पक्ष द्वारा शादी में खर्च हुए चार लाख रुपये लौटाना तय हुआ। गुरुवार को दूल्हे के पिता समेत दो लोगों को रुपयों की व्यवस्था करने के लिए छोड़ा गया। पुलिस के मुताबिक, यह बारात खरखौदा से टीपी नगर की एक धर्मशाला में सुबह 11 बजे पहुंची थी। दूल्हे के रुप में संजय को काला चश्मा पहना देख लड़की वालों को उस पर शक हुआ। संजय को उसके दोस्त सहारा देकर चल रहे थे। इसके बाद घरातियों और दुल्हन के परिजनों में इसको लेकर चर्चा शुरु हो गई लेकिन, उस समय इसे शौकिया समझा गया।

दूल्हन के परिजनों ने बताया कि बारात आने के बाद जयमाला के साथ-साथ अन्य रस्में भी निभाई गई लेकिन दूल्हे ने अपना काला चश्मा नहीं उतारा। इसी बीच फेरों का समय आ गया। फेरे लेते वक्त दूल्हा खंभे से टकरा गया। दूल्हे के खंभे से टकराते ही वहां मौजूद लोगों ने उसको पकड़ लिया। इसके बाद दूल्हे ने अपना काला चश्मा उतारकर कहा कि वह अंधा है।

दूल्हे के अंधेपन की बात पता चलते ही दुल्हन ने उसी समय शादी से इनकार कर दिया। बस, फिर क्या था नाराज दुल्हन पक्ष ने बारातियों को बंधक बना लिया। दुल्हन के परिजनों ने दूल्हे के परिजनों पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। उन लोगों ने बताया कि रिश्ता छोटे लड़के से तय हुआ था लेकिन लड़के वालों ने बड़ी चालाकी से दूल्हे को बदल दिया। उन्होंने बताया कि दूल्हे के परिजनों ने जानबूझकर अपने नेत्रहीन बड़े बेटे को दूल्हा बना दिया। बताया गया कि चार माह पूर्व यह रिश्ता शहर में रहने वाली दूल्हे की बहन ने कराया था। हालांकि, रातभर हंगामे के बाद दू्ल्हे पक्ष द्वारा चार लाख रुपये लौटाना तय हुआ। इसके बाद यह मामला सुलझ गया।

देखिए वीडियो - शादी मंडप में दूल्हे ने मांगी बुलेट और समधी ने दो लाख रुपये दहेज तो पुलिस उठाकर ले गई

ये वीडियो भी देखिए - रेप के बाद कत्ल की गई लड़की के हॉस्टल पहुंचे विधायक, दोस्त से पूछा- साफ बताइए खून कहां से आ रहा था

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App