ताज़ा खबर
 

यूपी निकाय चुनाव: राहुल गांधी की अमेठी में कांग्रेस का सफाया, स्मृति ईरानी ने यूं मारा तंज

UP Nagar Nigam Election/Chunav Result 2017, UP Nagar Palika Election Result 2017: अगर अमेठी में यही ट्रेंड रहता है और ये रुझान नतीजों में बदल जाते हैं तो ये राहुल गांधी और कांग्रेस के लिए बड़ा झटका साबित होगा।

स्‍मृति ईरानी और राहुल गांधी 2014 के लोकसभा चुनाव में अमेठी से आमने-सामने थे, हालांकि ईरानी चुनाव हार गई थीं।

यूपी के नगर निकाय चुनावों से कांग्रेस के लिए अच्छी खबर नहीं है। कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी के गढ़ में पार्टी को पटखनी मिली है। अमेठी से कांग्रेस का सफाया हो गया है। अमेठी में नगरपालिका की दो सीटें हैं गौरीगंज और जायस। इसके अलावा यहां दो नगर पंचायत की सीटें हैं। ये सीटे हैं अमेठी और मुसाफिरखाना।इनमें से किसी भी सीट पर कांग्रेस का उम्मीदवार नहीं जीता है। गौरीगंज नगरपालिका सीट पर समाजवादी पार्टी ने कब्जा जमाया है, जबकि जायस सीट पर बीजेपी उम्मीदवार की जीत हुई है। अमेठी नगर पंचायत की सीट पर बीजेपी की चंद्रमा देवी 1035 वोटों से जीती हैं। इसके अलावा मुसाफिरखाना नगर पंचायत पर निर्दलीय प्रत्याशी पुरुषोत्तम दास ने जीत हासिल की है। बता दें कि कांग्रेस ने नगर पंचायत चुनाव के लिेए पार्टी के सिंबल पर उम्मीदवारों को नहीं उतारा था। इधर नगर निकाय चुनाव के नतीजों पर केन्द्रीय मंत्री स्मृति ने भी राहुल गांधी पर हमला किया है। स्मृति ईरानी ने कहा है कि उन्हें अपने क्षेत्र की जनता ने नकार दिया है।

इस बीच उत्तर प्रदेश नगरीय निकाय चुनाव की मतगणना में सत्तारूढ़ भाजपा लगातार बढ़त बनाये हुए है। महापौर पद की मतगणना में भाजपा अबतक अयोध्या, मथुरा, ,सहारनपुर और मुरादाबाद समेत 14 सीटें जीत चुकी है। जबकि दो सीटें बहुजन समाज पार्टी ने जीती हैं। इसके अलावा नगर पालिकाओं के चुनाव की मतगणना के रुझानों में भी भाजपा की बढ़त बनी हुई है। वर्ष 2012 के नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा ने 12 में से 10 महापौर की सीटें जीती थीं। इस बार अयोध्या, फिरोजाबाद, मथुरा तथा बुलंदशहर पहली बार नगर निगम के तौर पर चुनाव प्रक्रिया से गुजर रहे हैं। बहरहाल, सभी परिणाम आज शाम तक आ जाने की सम्भावना है। चूंकि नगर निगमों के चुनाव इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) से हुए थे, लिहाजा वहां नतीजे जल्दी आने की उम्मीद है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App