ताज़ा खबर
 

यूपी: दारोगा बोले- आमने-सामने की फायरिंग में मारा गया तेंदुआ, लोगों ने पूछा- पिस्तौल लेकर आया था क्या?

लखनऊ के बाहरी इलाके औरंगाबाद में शनिवार को एक तेंदुआ घुस गया था। यह तेंदुआ तीन दिनों से पुलिस और वन विभाग की टीम को छका रहा था। इसे पकड़ने में पुलिस और वन विभाग के पसीने छुट गए लेकिन तेंदुआ काबू में नहीं आया। शनिवार सुबह यह तेंदुआ वन विभाग की ओर से पकडने के लिए लगाए गए जाल को तोड़कर एक मकान में घुस गया।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में दहशत फैला रहे तेंदुए को पुलिस ने फायरिंग में मार गिराया। शनिवार (17 फरवरी, 2018) सुबह तेंदुआ वन विभाग का जाल फाड़कर स्थानीय घर में घुस गया था। हालांकि तेंदुए को मारकर अपनी पीठ थपथपा रही पुलिस सोशल मीडिया में बैकफुट पर आ गई है। कई यूजर्स ने तेंदुए की मौत पर गुस्सा जाहिर किया है तो कई यूजर्स इसे एनकाउंटर बता रहे हैं। दूसरी तरफ घटना से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया में भी वायरल हो रहा है। वीडियो में घटना स्थल पर मौजूद दारोगा ने कथित तौर पर विवादित बयान किया है। उन्होंने कहा है, ‘तेंदुए के साथ आमने-सामने फायरिंग और हाथापाई हुई। हाथापाई के बाद मैंने तेंदुए को एक किचन में बंद कर दिया।’

देखें वीडियो-

यूजर्स की प्रतिक्रियाएं

बता दें कि लखनऊ के बाहरी इलाके औरंगाबाद में शनिवार को एक तेंदुआ घुस गया था। यह तेंदुआ तीन दिनों से पुलिस और वन विभाग की टीम को छका रहा था। इसे पकड़ने में पुलिस और वन विभाग के पसीने छुट गए लेकिन तेंदुआ काबू में नहीं आया। शनिवार सुबह यह तेंदुआ वन विभाग की ओर से पकडने के लिए लगाए गए जाल को तोड़कर एक मकान में घुस गया। यहां इस जानवर ने तीन स्थानीय लोगों को घायल कर दिया था, जब एसएचओ त्रिलोकी सिंह लोगों को बचाने की कोशिश कर रहे थे, तो तेंदुए ने उनपर भी हमला कर दिया। इसी दौरान तेंदुए पर गोली चलाई गई। वन विभाग की टीम ने भी तेंदुए को मारे जाने पर आपत्ति जताई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App