scorecardresearch

यूपीः द्रोपदी मुर्मु पर टिप्पणी पड़ी भारी, रामगोपाल के खिलाफ हजरतगंज थाने में केस दर्ज

राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित होने के बाद राम गोपाल वर्मा ने उन पर टिप्पणी की थी। उन्होंने लिखा कि अगर द्रौपदी राष्ट्रपति है, तो पांडव कौन है? उससे भी जरूरी यह है कि कौरव कौन है।

Ram Gopal Verma
महाराष्ट्र पॉलिटिकल क्राइसिस पर बोले फिल्म डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा (फाइल फोटो)

एनडीए की राष्ट्रपति प्रत्याशी द्रोपदी मुर्मु पर अपने ट्विटर हैंडल से अभद्र व अमर्यादित टिप्पणी करने पर फिल्म निर्देशक रामगोपाल वर्मा के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में केस दर्ज कराया गया है। मनोज कुमार सिंह की शिकायत पर ये केस दर्ज किया गया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। हालांकि अपनी टिप्पणी को लेकर बाद में रामगोपाल वर्मा ने माफी भी मांग ली थी।

एक रिपोर्ट के मुताबिक लखनऊ निवासी मनोज कुमार सिंह का कहना है कि उनके उम्मीदवार बनने के बाद यह ​टिप्पणी समाज पर बुरा असर डालने वाली है। यह सिर्फ उन पर नहीं बल्कि सभी महिलाओं का अनादर करने वाली पोस्ट है। यह आम जनमानस पर बुरा असर डालने वाला है। ऐसे में फिल्म निर्माता पर कार्रवाई होनी चाहिए। उनकी शिकायत पर संज्ञान लेकर पुलिस ने केस दर्ज किया। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच के बाद जरूरत पड़ी तो रामगोपाल को अरेस्ट किया जाएगा। फिलहाल सारे पहलुओं की विवेचना की जा रही है।

राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित होने के बाद राम गोपाल वर्मा ने उन पर टिप्पणी की थी। 22 जून को अपने ट्विटर हैंडल पर भी इस टिप्पणी को पोस्ट कर दिया। इसमें उन्होंने अंग्रेजी में लिखा है कि अगर द्रौपदी राष्ट्रपति है, तो पांडव कौन है? उससे भी जरूरी यह है कि कौरव कौन है।

शिकायतकर्ता का कहना है कि राम गोपाल वर्मा ने अपने ट्वीट के जरिये द्रौपदी मुर्मु के नाम को महाभारत से जोड़ने की कोशिश की है। मनोज कुमार सिंह के मुताबिक राष्ट्रपति की प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू पर ऐसी टिप्पणी गलत है। उन्होंने राम गोपाल वर्मा को गिरफ्तार करने की मांग की है।

गौरतलब है कि हाल ही में हैदराबाद में राम गोपाल वर्मा के खिलाफ एक प्रोडक्शन हाउस के साथ लाखों रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया था। उन पर आरोप है कि प्रोडक्शन हाउस के साथ उन्होंने 56 लाख रुपये की धोखाधड़ी की है। शेखरा आर्ट क्रिएशन्स के कोप्पाड़ा शेखर राजू की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत पर साइबराबाद पुलिस कमिश्नरेट के तहत मियापुर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया था।

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X