scorecardresearch

यूपी बजटः ‘मेरी पीढ़ी को एक चिराग बनकर जलना है’, जब वित्त मंत्री ने पढ़ा यह शेर, देखें- कैसा था योगी का रिएक्शन

वहीं प्रदेश सरकार द्वारा पेश किए गए बजट पर सपा मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि यह बजट नहीं बल्कि बंटवारा है।

suresh khanna| up| vidhansabha|
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना बजट पेश करते हुए (फोटो सोर्स: @upgovt)

उत्तर प्रदेश सरकार ने आज वर्ष 2022-23 के लिए बजट पेश किया। राज्य के इतिहास में पहली बार 6 लाख करोड़ से अधिक रुपए का बजट पेश किया गया है। प्रदेश सरकार ने करीब 6 लाख 15 हजार करोड़ रुपए का बजट पेश किया। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट पेश करने के दौरान एक शायरी बोली और उनके बगल बैठे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उनके इस शेर पर खुद को रोक ना पाए।

दरअसल वित्त मंत्री सुरेश खन्ना बजट भाषण पढ़ रहे थे और इस दौरान उन्होंने एक शायरी पढ़ते हुए कहा, “जब तक भोर का सूरज नज़र नहीं आता, काम मेरा है उजालों की हिफ़ाजत करना, मेरी पीढ़ी को एक चिराग़ बनकर जलना है, जिसका मज़हब है अंधेरों से बगावत करना।” वित्त मंत्री ने जैसे ही यह शायरी पढ़ी, पूरा सदन ठहाके मारकर हंसने लगा।

वहीं वित्त मंत्री सुरेश खन्ना के बगल बैठे योगी आदित्यनाथ भी खुद को रोक नहीं पाए और उन्होंने भी टेबल को थपथपा पर वित्त मंत्री द्वारा पढ़े गए शेर का स्वागत किया और हंसते हुए नजर आए। इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने हंसते हुए कुछ कहा और फिर वित्त मंत्री उन से गुफ्तगू करते नजर आए।

राज्य सरकार द्वारा पेश किए गए बजट का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वागत किया है। योगी आदित्यनाथ ने कहा, “हमारी सरकार ने वर्ष 2022-23 का बजट आज प्रस्तुत किया है। यह बजट प्रदेश की 25 करोड़ जनता की आकांक्षाओं की भावनाओं के अनुरूप प्रदेश के समग्र विकास, गांव, गरीब, किसान, नौजवान, महिलाएं, श्रमिक और समाज के प्रत्येक तबके को ध्यान में रखकर बनाया गया है।”

वहीं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार द्वारा पेश किए गए बजट की आलोचना की। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा, “यह इस सरकार का छठा बजट है और इसमें सबकुछ घटा है। यह बजट नहीं है, यह बंटवारा है। इस सरकार ने अपने पांच साल में जो घोषणापत्र जारी किया था उसमें कहा था कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी। आज हम 2022 में है और छठवां बजट पेश हो रहा है। क्या सरकार बताएगी कि उसका क्या हुआ?”

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.