ताज़ा खबर
 

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में नॉन वेज नहीं मिलने से छात्रों में गुस्सा, खत पर वीसी का जवाब- कहां से लाएं गोश्त

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के होस्टलों के मेस में छात्रों को हर रोज नॉन वेज खाना परोसा जाता है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के सभी होस्टलों के मेस से नॉन वेज खाना गायब हो गया है, अब छात्र शाकाहारी खाना खाने को मजबूर हैं। यूनिवर्सिटी में यह हालात यूपी सरकार द्वारा ‘अवैध’ बूचड़खानों पर कार्रवाई के बाद पैदा हुए हैं। छात्रों ने यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर को इस बारे में पत्र लिख मामले में दखल देने की मांग की है। लेकिन प्रबंधन की तरफ से मिले जवाब में उन्होंने भी नॉन वेज उपलब्ध नहीं कराने की मजबूरी बताई है। इस मामले पर एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भाजपा पर निशाना साधा है। ओवैसी ने ट्वीट किया, ‘अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में 15 हजार छात्रों को 26 मार्च के बाद से मीट नहीं मिला है और भाजपा कह रही है कि हम लोग निशाना नहीं बना रहे हैं।’ ओवैसी ने यह ट्वीट 27 मार्च को किया था।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के होस्टल के मेस में हर रोज नॉन वेज खाना परोसा जाता था, लेकिन अब वहां केवल शाकाहारी खाना दिया जा रहा है। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी छात्र संघ के अध्यक्ष फैजल हसन के हवाले से लिखा है कि हमें शाकाहारी खाना खाने को मजबूर किया गया है, यह हमें बिल्कुल भी स्वीकार नहीं है।

इसको लेकर छात्रों ने यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर जमीर यू. शाह को खत लिखा है, जिसके जवाब में प्रबंधन ने कहा कि हर रोज 500 किलो गोश्त का प्रबंधन करना मुश्किल है। होस्टल के 19 डाइनिंग हॉल में नोन वेज खाना दिया जाता था। प्रबंधन ने यह भी कहा कि अलीगढ़ में कोई बूचड़खाना काम नहीं कर रहा और बाकी मीट बेचने वालों ने अनिश्चितकालिन हड़ताल कर रखी है, ऐसे में मीट मुहैया कराना मुश्किल है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अलीगढ़ में कुछ ‘अवैध’ बूचड़खानों को बंद कर दिया गया और बाकी के बूचड़खाने जानवरों की कमी की वजह से गोश्त मुहैया नहीं करा पा रहे हैं।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का प्रवेश द्वार। ( Photo Source: Indian Express)

बता दें, योगी आदित्य नाथ ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ‘अवैध’ बूचड़खानों को बंद करने के आदेश दिए थे। इसके बाद से प्रदेश भर के दर्जनों बूचड़खानों को बंद कर दिया गया। इस कार्रवाई के बाद मीट के अन्य विक्रेताओं ने पूरे राज्य में अनिश्चिकालिन हड़ताल कर दी।

इन तस्‍वीरों में देखिए ”मीटबंदी” से बेहाल भारत का हाल…

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 यूपी: मांस बेचता था, पर भुखमरी से बचने के ल‍िए खोली चाय की दुकान
2 पीएम नरेंद्र मोदी के वाराणसी में योगी-योगी के नारे के साथ उड़ी कानून व्यवस्था की धज्जियां, लाल बत्ती लगी इस गाड़ी ने सबको किया हैरान
3 सीएम आवास में योगी आदित्य नाथ ने दी पहली दावत, व्रत रखने वालों के लिए फलाहार और दूसरों के लिए खीर-पूड़ी का इंतजाम
ये पढ़ा क्या?
X