ताज़ा खबर
 

UNNAO GANGRAPE: भीड़ के गुस्से का शिकार हो गए बीजेपी सांसद साक्षी महाराज और योगी सरकार के दो मंत्री

साक्षी महाराज के साथ उत्तर प्रदेश के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण पीड़िता के परिजन से मिलने पहुंचे थे।

Author नई दिल्ली | Published on: December 8, 2019 8:17 AM
पीड़िता के शव को दिल्ली से उन्नाव लाए जाने की समय की तस्वीर। (Express photo/Tashi Tobgyal)

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में रेप पीड़िता की मौत के बाद लोगों में आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है। शनिवार (7 दिसंबर, 2019) को भाजपा सांसद साक्षी महाराज जब प्रदेश के दो मंत्रियों के साथ पीड़िता के परिजनों से मिलने के लिए पहुंचे तो उन्हें लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। इस दौरान भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस बल तक का इस्तेमाल करना पड़ा। प्रदर्शनकारियों में स्थानीय कांग्रेस नेता भी शामिल थे। भाजपा नेता जब पीड़िता के परिजनों से मिलने के पहुंचे तो प्रदर्शनकारी ‘वापस जाओ-वापस जाओ’ के नारे लगाने लगे। इस बीच पुलिस और प्रदर्शनकारियों में हल्की झड़प के चलते कुछ लोग घायल भी हो गए।

गौरतलब है कि साक्षी महाराज के साथ उत्तर प्रदेश के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण पीड़िता के परिजन से मिलने पहुंचे थे। पुलिस सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस दौरान जमकर नारेबाजी की। पुलिस ने उन्हें हटाने की कोशिश की तो उन्होंने विरोध किया। इस कारण पुलिस को कार्यकर्ताओं के खिलाफ बल प्रयोग करना पड़ा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मौर्य और कमल रानी वरुण को पीड़िता के परिजन से मुलाकात के लिए भेजा था। बाद में मौर्य ने कहा, ‘राज्य सरकार पीड़ित परिवार के साथ पूरी मजबूती से खड़ी है। मुख्यमंत्री ने युवती की जान बचाने की हर संभव कोशिश की और उसे विमान से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया, लेकिन मौत को रोकना किसी के वश की बात नहीं है।’

उन्होंने कहा कि इस मामले के दोषियों को कतई बख्शा नहीं जाएगा। अपराधी तो अपराधी ही हैं। अगर कोई उन्हें बचाने की कोशिश करेगा तो उसके साथ भी कानून के मुताबिक सख्ती से निपटा जाएगा। इसी बीच उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने भी कहा, ‘किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्नाव का नाम खराब करने की कोशिश की गई है मगर हम यह होने नहीं देंगे।’

इससे पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने उन्नाव रेप पीड़िता की मौत को दुखद करार देते हुए कहा कि मामले की सुनवाई फास्ट-ट्रैक कोर्ट में कराने की कोशिश की जाएगी। एक आधिकारिक बयान में सीएम योगी ने कहा, ‘सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्हें सजा दिलवाई जाएगी।’

बता दें कि एक महिला को पांच लोगों ने जिंदा जला दिया था। इसमें दो लोग उससे बलात्कार के आरोपी भी हैं। शुक्रवार रात 11:40 कार्डियक अरेस्ट के चलते पीड़िता की मौत हो गई। पीड़िता 90 फीसदी से ज्यादा झुलस चुकी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X