ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी बोलीं- सड़ चुका है यूपी का पुलिस व‍िभाग

जेवर-बुलंदशहर लूटपाट और कथित बलात्कार की घटना की निंदा करते हुए कहा कि राजमार्गों पर सही से गश्त नहीं होने की वजह से यह घटना हुई।

महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी। (फाइल फोटो)

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने आरोप लगाया है कि उत्तर प्रदेश का पुलिस विभाग पिछले 15 वर्षों में सड़ चुका है और पिछली सरकारों ने अधिकारियों से रिश्वत लेकर उनकी तैनाती की होगी। मेनका ने यहां संवाददाताओं से बात करते हुए कानून व्यवस्था की स्थिति के लिए पिछली सरकारों को दोषी ठहराया और कहा कि राज्य में पुलिस व्यवस्था अराजक स्थिति में है तथा इसे ठीक करना होगा। महिला एवं बाल विकास मंत्री ने जेवर-बुलंदशहर लूटपाट और कथित बलात्कार की घटना की निंदा करते हुए कहा कि राजमार्गों पर सही से गश्त नहीं होने की वजह से यह घटना हुई।

आॅल इंडिया डेमोक्रेटिक वीमेन एसोसिएशन :एआईडीडब्लयूए: के प्रतिनिधियों ने इस राजमार्ग पर महिलाओं से हुए कथित बलात्कार के मामले में ताजा मेडिकल जांच की मांग की है। एआईडीडब्ल्यूए अपनी दिल्ली इकाई की अध्यक्ष मैमूना मुल्ला के नेतृत्व में जेवर जाकर महिलाओं से मिली। यह माकपा का महिला संगठन है। बता दें कि ग्रेटर नोएडा में जेवर-बुलंदशहर हाइवे पर हथियारबंद लुटेरों ने 40 वर्षीय एक शख्स की गोली मारकर हत्या कर दी थी, जबकि उसकी पत्नी, बहन और सास के साथ बदमाशों ने कथित तौर पर गैंगरेप किया था। पुलिस इस मामले में अभी तक चार लोगों को हिरासत में ले चुकी है।

वहीं दूसरी तरफ रामपुर जिले में कुछ मनचलों द्वारा दो लड़कियों के साथ छेड़खानी कर उनका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया गया। इस वीडियो के वायरल होते ही पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 14 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, जिनमें से 8 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में जिन लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की गयी है उनकी पहचान नहीं हो पायी है और न ही किसी ने इस मामले में पुलिस से संपर्क किया, और न ही शिकायत दर्ज कराई है, लेकिन इसके बावजूद पुलिस ने वीडियो के आधार पर घटना का स्वत: संज्ञान लेते हुए इस मामले में मामला दर्ज किया है।

देखिए वीडियो - बुलंदशहर: मरीज की मौत से गुस्साए परिजनों ने डॉक्टर को बुरी तरह पीटा, लगाया लापरवाही का आरोप

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App